अमृतपाल के सांसद बनते ही उनके समर्थक सक्रिय हो गए, जो लॉबिंग करने के लिए कमला हैरिस से मिलने गए?

नई दिल्ली: खालिस्तान समर्थक और कट्टरपंथी सिख प्रचारक अमृतपाल सिंह ने लोकसभा चुनाव जीत लिया है। सांसद बनते ही अमृतपाल सिंह के चाहने वाले भी सक्रिय हो गए हैं। हालात ये हैं कि अमृतपाल को लेकर अमेरिका में हलचल मची हुई है। अमृतपाल सिंह की रिहाई का मामला अब अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस तक पहुंच गया है। अमेरिकी-सिख वकील जसप्रीत सिंह ने खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह को जेल से रिहा करवाने के लिए अमेरिका से हस्तक्षेप की मांग की है। इसके लिए उन्होंने अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से संपर्क किया है।

अमेरिकी सिख वकील जसप्रीत सिंह का कहना है कि उन्होंने अमृतपाल सिंह मामले का गहराई से अध्ययन किया है। उनका मानना ​​है कि अमृतपाल सिंह की नजरबंदी अन्यायपूर्ण है। दरअसल, अमृतपाल सिंह ने लोकसभा चुनाव 2024 में खडूर-साहिब सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर जीत हासिल की है। अमृतपाल सिंह आतंकवाद के आरोप में असम की डिब्रूगढ़ जेल में बंद हैं। इधर, जेल में बंद अमृतपाल सिंह पंजाब सरकार को पत्र लिखकर असम की जेल से लोकसभा सदस्य के तौर पर शपथ लेने के लिए अस्थायी जमानत की गुहार लगाएंगे। डिब्रूगढ़ जेल से चुनाव लड़ने वाले खालिस्तानी अलगाववादी अमृतपाल सिंह ने कांग्रेस के कुलबीर सिंह के खिलाफ करीब दो लाख वोटों के अंतर से जीत हासिल की है।

कमला हैरिस से हस्तक्षेप की मांग
इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, जसप्रीत सिंह अमृतपाल सिंह की रिहाई के लिए भारत सरकार पर दबाव बनाने के लिए 100 से अधिक अमेरिकी कांग्रेसियों से संपर्क करने की योजना बना रहे हैं। जसप्रीत सिंह ने एक यूट्यूब वीडियो में कहा, ‘मैं पिछले दो-तीन महीनों में उनसे (कमला हैरिस) दो बार मिल चुका हूं। मैंने उनसे इमिग्रेशन के मुद्दों पर बात की। मैंने उनसे (अमृतपाल सिंह) इस बारे में बात की है। उन्होंने मुझे अपने कार्यालय आने का समय दिया है। मैं उनसे मंगलवार 11 जून को मिलूंगा। अमृतपाल सिंह की जीत बहुत बड़ी थी और उन्हें लगातार जेल में रखना मानवाधिकारों पर गंभीर सवाल खड़े करता है।’

20 अमेरिकी नेताओं से संपर्क
जसप्रीत सिंह अमेरिका में विभिन्न सिख संगठनों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इस मामले ने उपराष्ट्रपति कमला हैरिस सहित कई अमेरिकी नेताओं का ध्यान आकर्षित किया है। जसप्रीत सिंह लगातार उनके संपर्क में हैं। यह पहली बार है जब वे भारत से जुड़े किसी मुद्दे को इतनी ऊर्जा और उत्साह के साथ उठा रहे हैं। जसप्रीत सिंह ने बताया कि उन्होंने इस मामले पर चर्चा करने के लिए सीनेटर जैकलीन शेरिल रोसेन और एरिजोना से कांग्रेसी रूबेन गैलेगो सहित कई अमेरिकी सीनेटरों और कांग्रेसियों से मुलाकात की है। जसप्रीत ने 20 से अधिक अमेरिकी नेताओं से बात की है।

अमृतपाल को पिछले साल गिरफ्तार किया गया था
2024 के लोकसभा चुनाव में अमृतपाल सिंह ने खडूर साहिब सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ा था। उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार कुलबीर सिंह जीरा को हराया था। अमृतपाल 1,97,120 वोटों के अंतर से जीते थे। उन्हें 4,04,430 वोट मिले थे, जबकि जीरा के पक्ष में 2,07,310 वोट पड़े थे। उनके माता-पिता तरसेम सिंह और बलविंदर कौर उनसे मिलने शनिवार को असम पहुंचे थे। खालिस्तानी आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले जैसी पोशाक पहने अमृतपाल को पिछले साल 23 अप्रैल को मोगा के रोडे गांव से एक महीने से ज्यादा चली तलाशी के बाद गिरफ्तार किया गया था।

टैग: अमृतपाल सिंह, अमृतपाल सिंह समाचार