अमेरिका ने लास वेगास हेंडरसन सिटी में हिंदू मंदिर के निर्माण को रोका, पाकिस्तान भी इसमें शामिल

अमेरिका में हिन्दू मंदिर : अभी दो दिन पहले ही अमेरिका ने भारत में धार्मिक स्वतंत्रता को लेकर भारत सरकार पर सवाल उठाए थे, जिसमें कहा गया था कि अल्पसंख्यक समुदायों में डर है, वो खुद को अलग-थलग महसूस करते हैं, अमेरिका के इस बयान की हर जगह चर्चा हो रही थी, लेकिन अमेरिका अपने अंदर नहीं झांकता, उनके देश में भी हिंदुओं पर अत्याचार हो रहे हैं. अमेरिका में मंदिर बनाने के लिए हिंदुओं को लड़ाई लड़नी पड़ रही है. वहां रहने वाले हिंदुओं ने प्रशासन पर भेदभाव का आरोप लगाया है.

दरअसल, अमेरिका के लॉस वेगास के हेंडरसन शहर में हिंदू समुदाय एक मंदिर का निर्माण कर रहा था। शहर प्रशासन ने पहले मंदिर निर्माण की अनुमति दी थी, लेकिन बाद में इस पर रोक लगा दी गई। आनंद उत्सव नाम का मंदिर हेंडरसन के ग्रामीण इलाके में 5 एकड़ के भूखंड पर बनाया जा रहा था। 2022 में लोगों के विरोध के बहाने सिटी काउंसिल ने इस पर रोक लगा दी। अमेरिकन हिंदू एसोसिएशन के संस्थापक सतीश भटनागर ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि हेंडरसन हिंदुओं के लिए एक महत्वपूर्ण स्थान है। सतीश और बाबा अनल ने यह जमीन 4 लाख डॉलर में खरीदी थी।

अगस्त में मिली थी मंजूरी, अक्टूबर में लगा प्रतिबंध
सतीश ने चैनल को बताया कि समरलिन, हेंडरसन में हिंदू मंदिर होने के कारण शहर के दूसरी तरफ रहने वाले हिंदू भी पूजा स्थल चाहते थे. अगस्त 2022 में मंदिर को मंजूरी मिलने के बाद उसी साल अक्टूबर में इसे रोक दिया गया. बहाना बनाया गया कि इससे ग्रामीण संरक्षण को नुकसान होगा. उन्होंने सवाल उठाया कि उस इलाके में पहले से ही 3 चर्च हैं, तो वहां मंदिर बनाने से क्या नुकसान होगा. उन्होंने कहा कि प्रशासन की आपत्तियों के बावजूद हमने सारे बदलाव किए. इसके बाद भी सिटी काउंसिल ने प्रस्ताव को खारिज कर दिया. वहीं, बाबा अनल ने कहा, इंजीनियरों का काम लगभग पूरा हो चुका था. कागजी कार्रवाई पूरी करने में बेवजह बाधाएं खड़ी की गईं. बता दें कि पाकिस्तान में भी मंदिर निर्माण की इजाजत नहीं दी जा रही है. पाकिस्तान इस्लामाबाद में एक प्राचीन हिंदू मंदिर के निर्माण की इजाजत नहीं दे रहा है, वहां भी रोक लगा दी गई है.