इजरायली सेना ने गलती से मिस्र की सैन्य चौकी पर किया हमला, आईडीएफ ने ट्वीट कर कहा- हम दुखी हैं. इज़राइल रक्षा बल आईडीएफ ने ट्वीट किया कि आईडीएफ टैंक से गलती से गोलीबारी हुई और बोर के निकट मिस्र की एक चौकी पर हमला हुआ

छवि स्रोत: एपी
आईडीएफ टैंक ने गलती से मिस्र की सैन्य चौकी पर हमला कर दिया

इजराइल हमास के आतंकियों को चुन-चुनकर मार रहा है. इजरायली सेना गाजा पट्टी में घुस चुकी है और लगातार आतंकियों के ठिकानों को तबाह किया जा रहा है. इस बीच, इज़राइल रक्षा बलों (आईडीएफ) ने ट्वीट किया कि एक आईडीएफ टैंक ने गोलीबारी के दौरान केरेम शालोम क्षेत्र में सीमा पर मिस्र की एक चौकी पर गलती से हमला कर दिया। इस घटना की जांच की जा रही है और विवरण की समीक्षा की जा रही है. आईडीएफ इस घटना पर खेद व्यक्त करता है। आपको बता दें कि मिस्र की सीमा इजराइल की सीमा से मिलती है. ऐसे में आईडीएफ ने इस गलती से हुए हमले पर दुख जताया है.

इजराइल और हमास के बीच युद्ध जारी है

आपको बता दें कि इजरायली सेना लगातार हमास के आतंकियों को मार गिरा रही है. आज इजरायली हमले में हमास का एक और बड़ा कमांडर मारा गया है. इजरायली वायु सेना ने दावा किया कि उसके लड़ाकू विमानों ने हवाई हमले में हमास के डिप्टी कमांडर मुहम्मद कटमश को मार डाला है। यह आतंकवादी गाजा के सेंट्रल कैंप ब्रिगेड में हथियारों और तोपखाने प्रबंधन के लिए जिम्मेदार था। इससे पहले दावा किया गया था कि इजरायली हमलों में एक दर्जन से ज्यादा हमास कमांडर मारे गए हैं. साथ ही 1000 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं.

जानकारी के मुताबिक, इजरायली हमले में अब तक 12 से ज्यादा हमास कमांडर मारे जा चुके हैं. साथ ही उनके लॉन्च पैड, सैन्य मुख्यालय समेत प्रमुख हवाई अड्डों को भी इजरायली सेना ने नष्ट कर दिया है. एक दिन पहले ही इजरायली सेना ने दावा किया था कि अब तक 1000 से ज्यादा हमास आतंकी मारे जा चुके हैं. आपको बता दें कि 7 अक्टूबर को हमास के आतंकियों ने इजरायल पर रॉकेट से हमला किया था और इजरायली सीमा में घुसकर फायरिंग की थी और कई लोगों को बंधक बना लिया था. इस हमले में इजरायली और गैर-इजरायली नागरिकों समेत 1300 से ज्यादा लोग मारे गए थे.

नवीनतम विश्व समाचार