इजरायली सेना ने गाजा से 3 और बंधकों के शव बरामद किए, उन्हें हमास आतंकवादियों ने मार डाला था

छवि स्रोत : फ़ाइल एपी
इसराइल आतंकी हमला

टेल अवीव: इज़रायली सेना ने शुक्रवार को बताया कि 7 अक्टूबर को मारे गए तीन और बंधकों के शव रात भर में गाजा से बरामद कर लिए गए हैं। सेना ने बताया कि हनान याब्लोंका, मिशेल निसेनबाम और ओरियन हर्नांडेज़ के शव मिल गए हैं और उनके परिवारों को सूचित कर दिया गया है। सेना के अनुसार, तीनों की मौत मेफालिज़्म क्रॉसिंग पर उस दिन हुए हमले में हुई थी जिस दिन हमास ने इज़रायल पर हमला शुरू किया था और उनके शवों को गाजा ले जाया गया था।

हमास आतंकवादियों ने हमला किया

हमास के आतंकवादियों ने 7 अक्टूबर को इजराइल पर हमला किया था, जिसमें करीब 1,200 लोग मारे गए थे। इनमें से ज़्यादातर आम नागरिक थे। हमास ने करीब 250 लोगों को बंधक बनाया था। तब से लेकर अब तक, इजराइल द्वारा बंदी बनाए गए फिलिस्तीनियों के बदले में लगभग आधे बंधकों को रिहा किया जा चुका है। इजराइल का दावा है कि गाजा में अभी भी करीब 100 लोग बंधक हैं। उसने यह भी दावा किया है कि 30 और बंधकों की हत्या कर दी गई है।

इजराइल की कार्रवाई जारी

हमास आतंकवादियों के खिलाफ इजरायल की सैन्य कार्रवाई लगातार जारी है। इजरायल की वायु सेना ने पिछले कुछ घंटों में गाजा पट्टी में हमास के 70 से अधिक ठिकानों पर हमला किया है, जबकि थल सेना ने पूर्वी राफा में अपना अभियान जारी रखा है। इजरायली सेना के अभियान के कारण वहां शरण लिए हुए फिलिस्तीनी लोग भागने लगे हैं।

गाजा में स्थिति ख़राब है

इस बीच, सहायता एजेंसियों का कहना है कि दक्षिणी गाजा में खाद्य सामग्री खत्म हो रही है और ईंधन भंडार भी खत्म हो रहा है। अमेरिकी अंतर्राष्ट्रीय विकास एजेंसी और विश्व खाद्य कार्यक्रम का कहना है कि उत्तरी गाजा में अकाल की स्थिति पहले ही बन चुकी है। संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि अगर स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो कुछ ही दिनों में आपूर्ति और अन्य आवश्यक आपूर्ति समाप्त हो जाएगी। (एपी)

यह भी पढ़ें:

कंगाल पाकिस्तान की हालत खराब, चीनी नागरिकों की मौत पर देगा करोड़ों रुपए का मुआवजा

चीन ने ताइवान को घेर लिया है और युद्ध की तैयारी कर रहा है। क्या कभी भी हमला शुरू हो सकता है?

नवीनतम विश्व समाचार