ईरान समर्थित चरमपंथियों के हमले के जवाब में अमेरिका ने सीरिया पर बमबारी की

वाशिंगटन: पिछले कई हफ्तों से पूर्वी सीरिया में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर हो रहे हमलों के जवाब में अमेरिका ने उसी क्षेत्र में ईरान समर्थित मिलिशिया से जुड़े आतंकवादियों के ठिकानों पर बम गिराए हैं। पेंटागन ने यह जानकारी दी. दो अमेरिकी F-15 लड़ाकू विमानों ने ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड के हथियार भंडारण सुविधा को निशाना बनाया।

अमेरिकी रक्षा मंत्री ने कहा, ”राष्ट्रपति के लिए अमेरिकी सैनिकों की सुरक्षा से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ नहीं है और उन्होंने आज की कार्रवाई से यह स्पष्ट कर दिया है कि अमेरिका अपनी, अपने कर्मियों और अपने हितों की रक्षा के लिए कितना सतर्क है.”

दो सप्ताह में यह कम से कम दूसरी बार है जब अमेरिका ने चरमपंथी समूहों के ठिकानों पर बमबारी की है. अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि 17 अक्टूबर से अब तक कम से कम 40 ऐसे हमले किए जा चुके हैं. इनमें से कई ठिकाने इराक की सुरक्षा में थे.

अमेरिका ने अपने ताज़ा हमले की योजना इस तरह बनाई ताकि वह सीरिया में मौजूद ईरान समर्थित चरमपंथियों की कमर तोड़ सके. इसीलिए उन्हें नष्ट करने के उद्देश्य से उनके हथियारों और गोला-बारूद को निशाना बनाया गया।

टैग: अमेरिका