ईरान से तनाव के बीच पाकिस्तान में हुई विशेष बैठक

छवि स्रोत: एपी
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में शुक्रवार को इस्लामाबाद में एक उच्च स्तरीय बैठक हुई.

इस्लामाबाद: पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तान और ईरान के बीच काफी तनाव चल रहा है. दोनों देशों ने एक-दूसरे की सीमा का उल्लंघन कर हमले किए हैं जिनमें लोगों की जान गई है. इस बीच शुक्रवार को पाकिस्तान में एक बैठक हुई जिसकी खूब चर्चा हो रही है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईरान के साथ चल रहे गतिरोध के बीच पाकिस्तान के कार्यवाहक प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्रियों और सशस्त्र बलों के प्रमुखों ने शुक्रवार को एक उच्च स्तरीय बैठक की। आपको बता दें कि इससे ठीक पहले दोनों पड़ोसी देश एक-दूसरे के क्षेत्र में अपने सैन्य हमलों के बाद बिगड़े संबंधों को सुधारने पर सहमत हुए थे.

बैठक में कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे

सूत्रों के मुताबिक, राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) की इस बैठक की अध्यक्षता कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवर-उल-हक कक्कड़ ने की. इसमें तीनों सेनाओं के प्रमुख, कैबिनेट मंत्री समेत कई अन्य अधिकारी भी मौजूद थे. सूत्रों ने कहा कि रक्षा और विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने बैठक में ईरान के हमले और पाकिस्तानी सशस्त्र बलों के जवाबी हमले के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एनएससी ईरान के साथ भविष्य के संबंधों के संबंध में दिशानिर्देश जारी कर सकता है। कक्कड़ गुरुवार रात दावोस से घर लौटे। पाकिस्तान और ईरान द्वारा एक-दूसरे के खिलाफ सैन्य हमले शुरू करने के बाद वह विश्व आर्थिक मंच के कार्यक्रम में भाग लेने गए थे।

दोनों देशों के बीच अब भी तनाव बरकरार है

बैठक से पहले, पाकिस्तान के विदेश मंत्री जलील अब्बास जिलानी और उनके ईरानी समकक्ष हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन ने टेलीफोन पर बातचीत की। बातचीत के दौरान दोनों ‘परस्पर विश्वास और सहयोग’ की भावना और सुरक्षा मुद्दों पर करीबी सहयोग की जरूरत पर सहमत हुए. एनएससी की बैठक के बाद प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में संघीय कैबिनेट की बैठक होगी. जानकारों का मानना ​​है कि आने वाले दिनों में आतंकी गतिविधियों को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ सकता है. ईरान अक्सर सीमा पार आतंकवाद का मुद्दा उठाता रहता है और समय-समय पर कार्रवाई भी करता रहा है।

नवीनतम विश्व समाचार