उत्तर कोरिया पर धमकियों का कोई असर नहीं, दागी बैलिस्टिक मिसाइल, क्या दक्षिण कोरिया और अमेरिका देंगे जवाब?

सियोल. दक्षिण कोरिया की सेना ने रविवार को कहा कि उसे पता चला है कि उत्तर कोरिया ने उसके पूर्वी जलक्षेत्र की ओर कम से कम एक मिसाइल दागी है. दक्षिण कोरिया के ‘ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ’ ने तुरंत यह नहीं बताया कि यह किस प्रकार की मिसाइल थी या कितनी दूर तक उड़ी।

हाल के वर्षों में कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव अपने चरम पर पहुंच गया है. एक ओर जहां उत्तर कोरिया नियमित अंतराल पर मिसाइलों का परीक्षण कर रहा है, वहीं दूसरी ओर दक्षिण कोरिया ने जैसे को तैसा की तर्ज पर जापान के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास किया है।

उत्तर कोरिया की ओर से यह कार्रवाई ऐसे समय में हुई है जब उनके नेता किम जोंग-उन ने अपने पिता किम जोंग-इल की 12वीं बरसी उनकी समाधि पर जाकर मनाई, जहां उनके पिता का शव रखा हुआ है.

आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने कहा कि किम ने शनिवार को सन के कुमसुसन पैलेस में श्रद्धांजलि अर्पित की, जहां किम जोंग-इल और वर्तमान नेता के दिवंगत दादा और राष्ट्रीय संस्थापक किम इल-सुंग के शव पड़े हैं।

समाचार एजेंसी योनहाप की रिपोर्ट के मुताबिक, किम के दौरे पर उत्तर कोरियाई नेता किम टोक-हुन और सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी में संगठन मामलों के नेता जो योंग-वोन सहित वरिष्ठ अधिकारी भी थे। सरकारी मीडिया द्वारा जारी की गई तस्वीरों में उत्तर कोरियाई विदेश मंत्री चो सोन-हुई और उत्तर कोरियाई नेता की बहन किम यो-जोंग भी नजर आ रही हैं।

एक संपादकीय में, उत्तर कोरिया के मुख्य समाचार पत्र रोडोंग सिनमुन ने दिन-रात विचार करने और खोज करने और एक शक्तिशाली और समृद्ध देश के निर्माण में आने वाली सभी सैद्धांतिक और व्यावहारिक समस्याओं का वैज्ञानिक समाधान प्रदान करने के लिए किम जोंग-इल की प्रशंसा की।

टैग: उत्तर कोरिया, दक्षिण कोरिया, संयुक्त राज्य अमेरिका