ऑस्ट्रेलिया के प्रथम सीनेटर वरुण घोष ने भगवद गीता पर शपथ ली

वरुण घोष ने ली शपथ: ऑस्ट्रेलिया की संसद में भारतीय मूल के बैरिस्टर वरुण घोष ने नए सीनेटर बनने के बाद भगवत गीता पर हाथ रखकर शपथ ली। ऐसा करने वाले घोष पहले व्यक्ति हैं. इस पर ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री पेनी वोंग ने उन्हें बधाई दी.

पेनी वोंग ने सोशल मीडिया पर लिखा, “पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया से हमारे नए सीनेटर वरुण घोष का स्वागत है। सीनेटर घोष भगवद गीता पर शपथ लेने वाले पहले ऑस्ट्रेलियाई सीनेटर हैं। मैंने अक्सर कहा है कि जब आप कुछ करने वाले पहले व्यक्ति होते हैं, यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप अंतिम नहीं हैं।

वरुण घोष को किसके स्थान पर चुना गया?
लेबर पार्टी ने घोष को पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया (डब्ल्यूए) का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना है। हाल ही में फ्रांसिस बर्ट चैंबर्स के बैरिस्टर 38 वर्षीय घोष को वर्तमान सीनेटर पैट्रिक डोडसन की जगह लेने के लिए चुना गया था।

पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया की विधान सभा ने कहा था, “विधान सभा और विधान परिषद ने संघीय संसद की सीनेट में पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करने के लिए सीनेटर वरुण घोष को चुना है।”

वरुण घोष ने क्या कहा?
वरुण घोष ने हाल ही में अपने चयन पर कहा, “मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे अच्छी शिक्षा मिली और मेरा दृढ़ विश्वास है कि उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और प्रशिक्षण हर किसी के लिए उपलब्ध होना चाहिए।” आपको बता दें कि समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक घोष 17 साल की उम्र में पर्थ में लेबर पार्टी में शामिल हुए थे.

इनपुट आईएएनएस से भी.

ये भी पढ़ें- बिना वीजा के ईरान जा सकेंगे भारतीय! इन शर्तों के साथ मिलेगी एंट्री, जानें क्यों जरूरी है ये खबर