केरल विस्फोट नवीनतम समाचार विस्फोट में घायल व्यक्ति आज अस्पताल में, अब विस्फोट में पांच लोगों की मौत

केरल विस्फोट नवीनतम समाचार: 29 अक्टूबर को केरल के एर्नाकुलम में एक ईसाई प्रार्थना सभा में हुए विस्फोट में मरने वालों की संख्या अब बढ़कर 5 हो गई है। इस हादसे के 15 दिन बाद एक और घायल व्यक्ति की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। आपको बता दें कि इस धमाके के बाद 52 से ज्यादा लोग घायल हो गए. विस्फोट के दिन दो लोगों की मौत हो गई. धीरे-धीरे ये आंकड़ा 4 तक पहुंच गया.

वहीं पुलिस इस मामले की तेजी से जांच कर रही है. इस मामले की जांच एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर के नेतृत्व में 20 सदस्यीय टीम कर रही है. केरल पुलिस का कहना है कि इस मामले में जांच जारी है. हमने भड़काऊ पोस्ट करने वाले कई फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट की पहचान की है।

अब तक 54 मामले दर्ज किये गये हैं

पुलिस ने इस विस्फोट के संबंध में अब तक 54 मामले दर्ज किए हैं. सबसे ज्यादा 26 मामले मलप्पुरम जिले में दर्ज किए गए हैं. दूसरे नंबर पर एर्नाकुलम आता है, जहां 15 मामले दर्ज किए गए. इसके बाद तिरुवनंतपुरम आता है, जहां पांच मामले दर्ज किये गये.

कहां और कब हुआ था धमाका?

आपको बता दें कि यह विस्फोट 29 अक्टूबर को समारा इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हुआ था. सुबह करीब साढ़े नौ बजे इस केंद्र में यहोवा के साक्षियों (ईसाई धर्म का एक संप्रदाय) का सम्मेलन चल रहा था। कार्यक्रम के दौरान हॉल में 2 हजार से ज्यादा लोग मौजूद थे. प्रार्थना शुरू होने के पांच मिनट के अंदर ही हॉल में धमाका हो गया. पहले विस्फोट के कुछ ही देर बाद दूसरा विस्फोट भी हुआ.

आरोपी ने सरेंडर कर दिया था

इस धमाके के अगले दिन एक शख्स ने धमाके की जिम्मेदारी लेते हुए सरेंडर कर दिया. उन्होंने खुद को ईसाइयों के ‘यहोवा के साक्षी’ समूह का सदस्य बताया। उन्होंने केरल के त्रिशूर जिले में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया. हालांकि, पुलिस अभी भी जांच कर रही है कि वह झूठ बोल रहा है या सच बोल रहा है। आत्मसमर्पण करने वाले की पहचान डोमिनिक मार्टिन के रूप में की गई। उन्होंने हमले से जुड़े कुछ सबूत भी पुलिस को दिए.

ये भी पढ़ें

ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक ने दी दिवाली की शुभकामनाएं, दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति बोले- हम इस त्योहार का महत्व समझते हैं