गुरपतवंत सिंह पन्नून की हत्या की साजिश, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हरदीप सिंह निज्जर को लेकर भारत पर निशाना साधा

भारत-कनाडा संबंध: भारत और कनाडा के बीच विवाद जारी है. इस बीच खालिस्तान समर्थक गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की साजिश रचने के मामले को लेकर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा है कि अमेरिकी आरोपों के बाद भारत के रुख में बदलाव आया है.

अमेरिका ने एक भारतीय नागरिक पर पन्नू की हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप लगाया है. जस्टिन ट्रूडो ने कैनेडियन ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन के साथ एक इंटरव्यू में कहा, ”मुझे लगता है कि एक समझ की शुरुआत हुई है कि वे (भारत) अपना रास्ता नहीं बदल सकते। अब सहयोग के लिए और अधिक रास्ते खुले हैं, जो पहले कम थे।”

ट्रूडो का यह बयान ऐसे वक्त आया है जब हरदीप सिंह निज्जर की हत्या को लेकर भारत और कनाडा के बीच विवाद जारी है. हाल ही में ट्रूडो ने दावा किया था कि निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंटों का हाथ हो सकता है. भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसे खारिज करते हुए कहा था कि ट्रूडो का दावा राजनीति से प्रेरित है. इसके बाद विवाद इतना बढ़ गया कि भारत ने संतुलन बनाने के लिए नई दिल्ली में तैनात और कनाडाई राजनयिकों को देश छोड़ने के लिए कहा।

पीएम मोदी ने भी दिया बयान
ब्रिटिश अखबार फाइनेंशियल टाइम्स को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पन्नू पर लगे आरोपों पर कहा कि दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र कानून के शासन के लिए प्रतिबद्ध है और अगर कोई जानकारी देगा तो वह इस पर गौर करेंगे.

उन्होंने कहा, “अगर हमारे किसी नागरिक ने कुछ भी अच्छा या बुरा किया है तो हम उस पर गौर करने के लिए तैयार हैं।” हमारी प्रतिबद्धता कानून के शासन के प्रति है.” पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारत विदेश स्थित कुछ चरमपंथी समूहों की गतिविधियों को लेकर काफी चिंतित है. मुझे नहीं लगता कि कुछ घटनाओं को दोनों देशों के राजनयिक संबंधों से जोड़ना उचित है.

क्या बात है आ?
अमेरिकी संघीय अभियोजकों ने हाल ही में आरोप लगाया कि निखिल गुप्ता नाम का एक व्यक्ति सिख अलगाववादी गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की असफल साजिश में भारत सरकार के एक कर्मचारी के साथ काम कर रहा था। पन्नू के पास अमेरिका और कनाडा की दोहरी नागरिकता है. भारत ने आरोपों की जांच के लिए एक कमेटी बनाई है.

इनपुट भाषा से भी.

यह भी पढ़ें- गुरपतवंत सिंह पन्नून केस: अमेरिका में पन्नून की हत्या की साजिश पर पीएम मोदी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- सबूत मिले तो जांच करेंगे