गुवाहाटी में राहुल गांधी न्याय यात्रा

राहुल गांधी न्याय यात्रा: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान उत्तर पूर्वी असम के गुवाहाटी में एक बार फिर विवाद हो गया है. शहर में यात्रा की इजाजत नहीं मिलने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच जमकर झड़प हुई.

प्रशासन का कहना है कि शहर में यात्रा की अनुमति नहीं है, जबकि राहुल गांधी की यात्रा शहर के अंदर चल रही थी. यही कारण था कि बाद में पुलिस ने बैरिकेड्स लगा दिए और इसके चलते राहुल गांधी की बस के साथ चल रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प हो गई.

राहुल गांधी बोले- छात्रों से बात करने से रोका जा रहा है

राहुल गांधी को गुवाहाटी में छात्रों से बातचीत करनी है. कांग्रेस नेता गांधी ने कहा है कि उन्हें छात्रों से बात करने से रोका जा रहा है.
प्रशासन का कहना है कि राहुल गांधी की यात्रा को गुवाहाटी शहर के अंदर अनुमति नहीं है. उन्हें शहर के बाहरी इलाके से होकर गुजरने को कहा गया है. झड़प के बाद अतिरिक्त संख्या में पुलिस जवानों की तैनाती बढ़ा दी गई है. बवाल के बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल बन गया है. सुबह करीब 10 बजे क्वींस होटल से भारत जोड़ो न्याय यात्रा शुरू हुई. राहुल गांधी का गुवाहाटी में एक सार्वजनिक संबोधन भी होना है. मंगलवार को यात्रा का दसवां दिन है जो असम के बिष्णुपुर में पूरी होगी।

पार्टी नेताओं से मुलाकात के बाद राहुल गांधी छात्रों से बातचीत करेंगे
कांग्रेस द्वारा साझा किए गए कार्यक्रम के मुताबिक, राहुल गांधी मेघालय के री भोई जिले के जोराबाट में एक होटल में नॉर्थ ईस्ट कांग्रेस कमेटी के साथ बैठक करेंगे. इसके बाद राहुल गांधी गुवाहाटी में छात्रों और नागरिक समाज के सदस्यों से भी बातचीत करेंगे. पार्टी ने दावा किया कि पुलिस ने उन्हें मुख्य शहर में रोड शो या मार्च करने की अनुमति नहीं दी।

राहुल गांधी गुवाहाटी से लगभग 75 किलोमीटर दूर कामरूप जिले के दमदमा में एक संवाददाता सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे।
आपको बता दें कि 14 जनवरी को मणिपुर से शुरू हुई यात्रा 20 या 21 मार्च को मुंबई में खत्म होगी.

ये भी पढ़ें:बिहार पॉलिटिक्स: बिहार की राजनीति से बड़ी खबर, अचानक राज्यपाल से मिलने पहुंचे सीएम नीतीश कुमार।