‘घर वापस आ जाओ…’ खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी बीजेपी में शामिल, पूरी पार्टी का किया विलय

बेंगलुरु. लोकसभा चुनाव से पहले कर्नाटक के पूर्व मंत्री और खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी सोमवार को फिर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। रेड्डी ने पिछले साल विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा से अपना दो दशक पुराना नाता तोड़कर ‘कल्याण राज्य प्रगति पक्ष’ (केआरपीपी) का गठन किया था। वह अवैध खनन मामले में आरोपी हैं और गंगावती के विधायक हैं.

रेड्डी ने अपने केआरपीपी का भी भाजपा में विलय कर दिया और पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, प्रदेश अध्यक्ष बीवाई विजयेंद्र और अन्य की उपस्थिति में अपनी पत्नी अरुणा लक्ष्मी और परिवार के कुछ सदस्यों के साथ पार्टी में शामिल हो गए। गया। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘मैं देशहित में और पीएम मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने में समर्थन देने के लिए बीजेपी में शामिल हुआ हूं. मैं अपने घर लौट आया हूं…पार्टी मुझे जो भी जिम्मेदारी देगी, मैं उसे निभाऊंगा।’ मैं सबके लिए प्रचार करूंगा…’

ये भी पढ़ें- स्टार पावर के भरोसे कई बड़े नेताओं का पत्ता कटा, 5वीं लिस्ट से क्या संदेश दे रही है बीजेपी?

रेड्डी ने हाल ही में दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। हालांकि, उन्होंने हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन किया था.

खनन घोटाले में कथित भूमिका के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद रेड्डी पिछले साल विधानसभा चुनाव तक लगभग 12 वर्षों तक राजनीतिक रूप से काफी हद तक निष्क्रिय थे। इस दौरान 2018 विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने मोलाकालमुरु विधानसभा क्षेत्र में अपने करीबी दोस्त और पूर्व मंत्री बी श्रीरामुलु के लिए प्रचार किया था.

2018 विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा था कि ‘बीजेपी का जनार्दन रेड्डी से कोई लेना-देना नहीं है.’ (भाषा इनपुट के साथ)

टैग: बीजेपी, लोकसभा चुनाव 2024, लोकसभा चुनाव