चंदा देवी के भाषण से प्रभावित हुए पीएम मोदी, उनसे चुनाव लड़ने को कहा

पीएम मोदी का वाराणसी दौरा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (18 दिसंबर) को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लिए लगभग 19,150 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने वाराणसी-नई दिल्ली रूट पर एक और वंदे भारत ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई. इसके बाद पीएम मोदी ने स्वयं सहायता समूह में शामिल महिलाओं से बात की.

इस दौरान पीएम मोदी ने सेवापुरी गांव में भाषण दे रही महिला चंदा देवी से पूछा कि आप कितनी पढ़ी-लिखी हैं? इस पर महिला ने बताया कि वह इंटरमीडिएट पास है। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि आप इतना अच्छा भाषण देते हैं, क्या चुनाव लड़े हैं? क्या आप चुनाव लड़ेंगे? इस पर महिला ने कहा नहीं सर.

चंदा बच्चों को अच्छे कॉलेज में पढ़ाना चाहती है
चंदा देवी ने कहा, “हम आपसे प्रभावित हैं, आप जो काम करते हैं…हम आपके साथ कदम मिलाकर चलते हैं।” इसी वजह से हमने जो कुछ हासिल किया वह आपके सामने मौजूद है.’ हम आपके सामने बोल रहे हैं.” उन्होंने आगे कहा, ”मेरी बेटी सातवीं क्लास में है, बेटा तीसरी क्लास में है. अगर आर्थिक स्थिति अच्छी रही तो हम अच्छे कॉलेजों में पढ़ाएंगे। बैंक सखी में काम करते हुए हम हर कर्तव्य निभाते हैं।

‘दो करोड़ माताओं को करोड़पति बनाना है’
इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि मेरा सपना देश के गांवों में आप जैसी दो करोड़ माताओं को करोड़पति बनाना है. जब लोग आपकी बात सुनेंगे तो उन्हें विश्वास हो जाएगा कि वे करोड़पति बन जाएंगे। इसके बाद महिला ने कहा, ”यहां लोगों को बोलने का मौका नहीं मिलता.” लेकिन हमारे गांव में हर समूह से दो-तीन महिलाएं लखपति दीदी बन जाती थीं।

पीएम मोदी ने महिला को दिया टास्क
इसके बाद पीएम मोदी ने महिला को टास्क दिया. पीएम मोदी ने कहा कि आजकल शादी-ब्याह और जन्मदिन पर खड़े होकर खाने का चलन शुरू हो गया है. लोग सोचते हैं कि अगर दोबारा नहीं मिलेगा तो प्लेट भर लेते हैं और आधी छोड़ देते हैं… अगर आप खाना परोसने की ट्रेनिंग दे सकें तो खाना बच ही जाएगा. लोगों को भी अच्छी सेवा मिलेगी और आपकी बहनें भी कमाएंगी.

चंदा और पीएम मोदी की बातचीत का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. चंदादेवी सरकारी योजना ‘लखपति दीदी’ के तहत जरूरतमंदों को ऋण उपलब्ध कराने सहित ग्राम सहायता समूह में शामिल महिलाओं के लगभग 80-90 बैंक खातों की देखभाल करती हैं।

यह भी पढ़ें- नीतीश, ममता, स्टालिन और उद्धव दिल्ली पहुंचे, ‘इंडिया’ की अहम बैठक कल, सीट बंटवारे समेत इन मुद्दों पर होगी चर्चा