चुनावी बांड डेटा: चुनाव आयोग ने सबके सामने रखा चुनावी बांड से जुड़ा नया डेटा, सुप्रीम कोर्ट ने दिया था आदेश.

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने रविवार को चुनावी बांड को लेकर नया डेटा सार्वजनिक किया। यह डेटा आयोग ने सीलबंद लिफाफे में सुप्रीम कोर्ट को सौंपा था. बाद में कोर्ट ने आयोग से यह डेटा सार्वजनिक करने को कहा.

माना जा रहा है कि ये विवरण 12 अप्रैल, 2019 से पहले की अवधि से संबंधित हैं। आयोग ने पिछले सप्ताह उपरोक्त तिथि के बाद चुनावी बांड से संबंधित विवरण सार्वजनिक किया था। आयोग ने एक बयान में कहा कि राजनीतिक दलों ने 12 अप्रैल, 2019 के सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के अनुसार चुनावी बांड से संबंधित डेटा एक सीलबंद कवर में दाखिल किया था।

आयोग ने कहा, ”राजनीतिक दलों से प्राप्त डेटा सीलबंद लिफाफे में सुप्रीम कोर्ट को सौंपा गया था. 15 मार्च, 2024 के सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर कार्रवाई करते हुए, कोर्ट रजिस्ट्री ने एक सीलबंद कवर में एक पेन ड्राइव में डिजिटल रिकॉर्ड के साथ भौतिक प्रतियां वापस कर दीं। “आयोग ने आज चुनावी बांड के संबंध में सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री से डिजिटल रूप में प्राप्त डेटा को अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है।”