छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री विष्णु देव साई ने साक्षात्कार में राज्य के लिए भविष्य की योजना के बारे में बताया

छत्तीसगढ़ के नए सीएम विष्णुदेव साय: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार (10 दिसंबर) को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को लेकर सस्पेंस खत्म कर दिया। पार्टी ने सीएम के लिए विष्णुदेव साय के नाम का ऐलान कर दिया है. मुख्यमंत्री के लिए अपने नाम की घोषणा के बाद विष्णुदेव साय ने एबीपी न्यूज से बात की. इस दौरान उन्होंने एबीपी न्यूज के दर्शकों का भी शुक्रिया अदा किया.

उन्होंने कहा, ”मुझे कई वर्षों तक पार्टी का आशीर्वाद मिला है. मुख्यमंत्री का पद चुनौतीपूर्ण है, लेकिन मुझे विश्वास है कि मैं इस जिम्मेदारी को अच्छे से निभाऊंगा. केंद्र में भी बीजेपी की सरकार है. ऐसे में डबल इंजन सरकार के माध्यम से, कोई समस्या नहीं होगी। हम हर चुनौती को मिलकर हल करेंगे।” मुख्यमंत्री पद के शपथ ग्रहण को लेकर विष्णुदेव साय ने कहा कि ‘बहुत जल्द हमें पता चल जाएगा कि शपथ ग्रहण समारोह कब होगा.’

‘छत्तीसगढ़ के विकास के लिए काम करेंगे’

विष्णुदेव साय ने आगे कहा, “छत्तीसगढ़ का निर्माण भारतीय जनता पार्टी ने किया है. इसलिए बीजेपी चाहेगी कि छत्तीसगढ़ खूब तरक्की करे और खूब तरक्की करे. 15 साल तक जब हमारी सरकार यहां थी तो हम ही थे जिन्होंने इस गरीब और पिछड़े को आगे बढ़ाने का काम किया.” प्रदेश आगे। कांग्रेस सरकार में छत्तीसगढ़ फिर पिछड़ गया है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी की सरकार फिर से छत्तीसगढ़ के विकास के लिए काम करेगी।”

‘हर चुनावी वादा पूरा करेंगे’

किसानों की बात करते हुए विष्णुदेव साय ने कहा, “हमारी पार्टी गांव, गरीब और किसानों की पार्टी है. हम सबका साथ, सबका विश्वास, सबका प्रयास में विश्वास करते हैं. हमने चुनाव से पहले मोदी गारंटी में जो वादा किया है, उसे पूरा करेंगे.” हर तरह से।” हम इसे जल्द ही पूरा कर लेंगे. किसान और गरीब हमारी प्राथमिकता होंगे।”

विष्णुदेव साय का राजनीतिक सफर

विष्णुदेव साय को राजनीति में 30 साल से ज्यादा का अनुभव है. संघ में उनकी अच्छी पकड़ है. 1990 में वे राजनीति की मुख्य धारा में आये और संयुक्त मध्य प्रदेश में विधायक चुने गये। इस चुनाव में जीत हासिल कर विष्णुदेव साय तीसरी बार विधायक बने हैं. साय चार बार सांसद भी रह चुके हैं और 2014 से 2019 के बीच केंद्रीय राज्य मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं। उन्होंने जून 2020 से अगस्त 2022 तक बीजेपी छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाली थी। 2010 और 2014 में प्रदेश अध्यक्ष.

ये भी पढ़ें

बस्तर समाचार: बस्तर में गिरा तापमान, कड़ाके की ठंड से लोग बेहाल, घने कोहरे ने बढ़ाई राहगीरों की परेशानी