झारखंड: 3 दिन तक चली छापेमारी में 8 करोड़ कैश, 20 करोड़ की ज्वेलरी और क्या मिला?

संजय गुप्ता. धनबाद. बुधवार को आयकर विभाग ने धनबाद में कोयला कारोबारी अनिल गोयल और दीपक पोद्दार के आवास, होटल, हार्डकोक भट्ठी समेत 40 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की थी. बुधवार को शुरू हुई आईटी की छापेमारी शुक्रवार रात तक जारी रही. 50 गाड़ियों में अधिकारी पहुंचे थे. दो से तीन गाड़ियों में पांच सदस्यीय टीम ने सभी जगह छापेमारी की थी. दीपक पोद्दार के जोड़ाफाटक स्थित आवास, गोविंदपुर वेडलोक होटल, कल्याणी उद्योग हार्डकोक भट्ठा, अनिल गोयल के मनियाटांड़ स्थित आवास, होटल, तेतुलिया, निरसा हार्डकोक भट्ठा पर तलाशी ली गयी. इसके अलावा राजगंज, तेतुलमारी, कपुरिया समेत अन्य हार्डकोक भट्ठों में भी जांच की गयी. साथ ही आईटी टीम ने सुरेश चौधरी और मन्नू सिंह के आवास पर भी छापेमारी की.

शुक्रवार रात सभी जगहों की आईटी टीमों ने जांच पूरी कर ली। सूत्रों के मुताबिक, तीन दिनों तक चली छापेमारी में 8 करोड़ रुपये नकद, 15 से 20 करोड़ रुपये के आभूषण, 12 बैंक लॉकर और 300 करोड़ रुपये के अघोषित निवेश की जानकारी मिली है.

इनकम टैक्स को कम कीमत पर कोयला खरीदकर ऊंची कीमत पर बेचने के सबूत मिले थे, जिसके आधार पर छापेमारी की गई. आयकर विभाग की टीम को करीब 41.81 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी के सबूत मिले हैं. आयकर विभाग की टीम ने नकदी और आभूषण जब्त कर लिये. कई दस्तावेज भी जब्त किये गये हैं. दस्तावेज जब्त करने के बाद आईटी टीम उनकी गहनता से जांच करेगी. जांच के बाद अगर टीम को कुछ भी संदेह हुआ तो वह अनिल गोयल और दीपक पोद्दार को अपने कार्यालय में बुलाकर पूछताछ करेगी.

टैग: धनबाद समाचार, झारखंड समाचार