ट्रंप की नाभि का राज जानता है ये ‘विभीषण’, कोर्ट में खुद पर लगाया ऐसा आरोप, पलट सकता है पूरा मामला!

न्यूयॉर्क। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एडल्ट स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स मामले में बुरी तरह फंस गए हैं। ट्रंप पर इस पॉर्न स्टार के साथ संबंध बनाने और फिर पैसे हड़पने का आरोप है। इस मामले में ट्रंप के खिलाफ न्यूयॉर्क कोर्ट में केस चल रहा है, जहां सोमवार को माइकल कोहेन ने अपना बयान दर्ज कराया. कोहेन को ट्रंप का बेहद करीबी माना जाता है. ट्रंप के वकील बनने से पहले वह उनकी रियल एस्टेट कंपनी में ऊंचे पद पर थे. कहा जाता है कि कोहने को ट्रंप के सारे राज पता हैं और उन्होंने ही स्टॉर्मी डेनियल्स तक पैसे पहुंचाए थे. हालांकि, उन्होंने कोर्ट में कुछ ऐसे आरोप स्वीकार कर लिए, जिससे पूरा केस पलट सकता था.

माइकल कोहेन, जो डोनाल्ड ट्रम्प के फिक्सर थे, ने अदालत को बताया कि उन्होंने ‘खुद की मदद’ करने के लिए ट्रम्प की कंपनी से पैसे चुराए थे। कोहेन पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के खिलाफ मामले में सबसे महत्वपूर्ण गवाह हैं। हालाँकि, अब उनके इस कबूलनामे से उनकी साख को नुकसान हो सकता है।

ये भी पढ़ें- ‘बचपन से जवानी तक RSS का सदस्य रहा, अब दोबारा जाने को तैयार…’ रिटायर होते ही कलकत्ता हाई कोर्ट के जज ने कही ये बात

कोहेन ने बताया कि उन्हें ट्रंप की कंपनी की तरफ से एक टेक्नोलॉजी कंपनी को 50 हजार डॉलर देने थे, लेकिन उन्होंने उस कंपनी को 20 हजार डॉलर नकद दिए और बाकी 30 हजार डॉलर अपने पास रख लिए। दरअसल, कोहेन ने बताया कि उन्होंने पोर्न स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स को मुंह बंद रखने के लिए अपनी जेब से 130,000 डॉलर दिए थे। हालांकि, इसके बाद उन्हें ट्रंप ऑर्गनाइजेशन की तरफ से बोनस के नाम पर सिर्फ एक लाख डॉलर दिए गए। ऐसे में उन्होंने अपना बकाया पैसा ऐसे ही रख लिया।

ट्रंप के खिलाफ चल रहे इस मामले में माइकल कोहेन अभियोजन पक्ष के सबसे महत्वपूर्ण गवाह हैं, जो जूरी को यह विश्वास दिलाना चाहते हैं कि ट्रंप ने डेनियल्स को किए गए भुगतान को छिपाकर कानून तोड़ा है। हालाँकि, अब अदालत में कोहने का कबूलनामा उन्हें झूठा और अपराधी के रूप में चित्रित करता है। ऐसे में अभियोजन पक्ष के लिए जूरी को अपनी गवाही पर यकीन दिलाना काफी मुश्किल माना जा रहा है.

टैग: अमेरिका समाचार, डोनाल्ड ट्रम्प