डोनाल्ड ट्रंप पर बरसे राष्ट्रपति जो बिडेन, बताया अमेरिका के लिए खतरनाक, बोले- ‘नफरत को न पनपने दें’

वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने गुरुवार को ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने अपने दूसरे कार्यकाल के लिए मतदाताओं को लुभाने का प्रयास किया. साथ ही उनसे ‘नाराजगी और बदले की भावना’ को खारिज करने की भी अपील की. उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार और पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को खतरनाक विकल्प बताया है. उन्होंने लोगों को आगाह किया कि वे डोनाल्ड ट्रंप को दोबारा न चुनें. आपको बता दें, हर साल अमेरिका के राष्ट्रपति संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करते हैं, जिसे ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ या ‘SOTU’ के नाम से जाना जाता है.

इस बार जो बिडेन ने ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन ऐसे समय दिया है जब वह 8 महीने बाद फिर से राष्ट्रपति चुनाव लड़ रहे हैं। बिडेन ने कहा, ”मेरे जीवन ने मुझे स्वतंत्रता और लोकतंत्र को अपनाना सिखाया है।”

सुपर ट्यूजडे प्राइमरी में डोनाल्ड ट्रंप जीते, राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी तय, निक्की हेली हारीं

ट्रम्प का नाम लिए बिना, बिडेन ने कहा, “भविष्य उन मूल मूल्यों पर आधारित है जिन्होंने अमेरिका को परिभाषित किया है: ईमानदारी, शालीनता, गरिमा, समानता, सभी का सम्मान करना, सभी को उचित मौका देना, नफरत नहीं रखना।” मेरी उम्र के कुछ अन्य लोग एक अलग कहानी देखते हैं: आक्रोश और प्रतिशोध की एक अमेरिकी कहानी। मैं उसके जैसा नहीं हूं।”

जो बिडेन ने डोनाल्ड ट्रंप पर साधा निशाना

जो बिडेन ने अपने बुनियादी ढांचे और विनिर्माण उपलब्धियों का बखान किया और संसद पर यूक्रेन को अधिक सहायता, प्रवासन पर सख्त नियम और दवा की कीमतें कम करने की मंजूरी देने का दबाव डाला। बाइडेन ने देश के लिए आशावादी भविष्य की तस्वीर पेश की लेकिन साथ ही चेतावनी भी दी कि ट्रंप के दोबारा राष्ट्रपति बनने पर देश और विदेश में जो प्रगति वह देख रहे हैं वह खतरे में पड़ जाएगी.

टैग: अमेरिका, डोनाल्ड ट्रम्प, जो बिडेन