दिल्ली एनसीआर में आंधी तूफान से पेड़ गिरने से 2 लोगों की मौत, भारी बारिश के कारण बद्रीनाथ-केदारनाथ मार्ग बंद

दिल्ली थंडरस्टॉर्म अपडेट: दिल्ली-एनसीआर में कई दिनों तक भीषण गर्मी के बाद शुक्रवार (10 मई) रात अचानक मौसम बदल गया। तेज आंधी, तेज हवाओं और बारिश से दिल्ली-एनसीआर का मौसम बदल गया. तूफान के कारण कई जगहों पर गाड़ियों और घरों को नुकसान पहुंचा है. दिल्ली में गिरे पेड़ों की चपेट में आने से दो लोगों की मौत भी हो चुकी है. देश के अन्य हिस्सों में भी लोग बदलते मौसम से परेशान हैं.

दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार रात बदले मौसम के कारण राजधानी में यातायात बाधित हो गया, जबकि कई उड़ानों को डायवर्ट भी करना पड़ा। अचानक आई धूल भरी आंधी से दिल्ली से सटे नोएडा और गाजियाबाद जैसे आसपास के इलाकों में भी नुकसान हुआ है. नोएडा के सेक्टर 58 में एक बिल्डिंग की मरम्मत के लिए लगाई गई शटरिंग तेज हवाओं के कारण गाड़ियों पर गिर गई. इसकी चपेट में आने से कई गाड़ियों के शीशे टूट गए और कुछ बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं.

दिल्ली में तूफान से दो लोगों की मौत, 23 घायल

दिल्ली पुलिस ने कहा है कि राजधानी में पेड़ गिरने से दो लोगों की मौत हो गई है, जबकि छह लोग घायल हो गए हैं. तूफान के कारण इमारतों को हुए नुकसान के कारण 17 लोग घायल हो गए हैं. इस तरह तूफान से कुल 23 लोग घायल हुए हैं. कल के तूफान के बाद, दिल्ली पुलिस को 400 से अधिक कॉल प्राप्त हुईं, जिनमें पेड़ गिरने के लिए 155 कॉल, भवन क्षति के लिए 55 और बिजली व्यवधान के लिए 202 कॉल शामिल थीं।

रोहिणी के जापानी पार्क में पंडाल गिरा, फ्लाइटें डायवर्ट

दिल्ली में रात को आए तूफान के कारण रोहिणी के जापानी पार्क में एक पंडाल गिर गया. पार्क में मेला लगा था, जहां पंडाल गिरने की घटना सामने आई। मेले में काम कर रहे एक व्यक्ति ने बताया कि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ. कल रात दिल्ली में खराब मौसम के कारण 9 फ्लाइट्स को जयपुर डायवर्ट करना पड़ा. भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली में कई जगहों पर रात 10 बजे हवा की गति 50 किमी प्रति घंटा थी.

भारी बारिश के कारण बद्रीनाथ-केदारनाथ जाने वाले यात्री रुक गए

वहीं, बदलते मौसम का असर सिर्फ दिल्ली-एनसीआर पर ही नहीं देखा गया है, बल्कि उत्तराखंड में भी भारी बारिश हुई है. भारी बारिश के कारण बद्रीनाथ-ऋषिकेश हाईवे सिरोबगड़ के पास बंद हो गया है. इसके चलते बदरीनाथ और केदारनाथ जाने वाले तीर्थयात्रियों को श्रीकोट-श्रीनगर और कलियासौड़ में रोक दिया गया है। श्रीनगर कोतवाल होशियार सिंह पंखोली ने बताया कि यात्रियों को कोई परेशानी न हो इसका ध्यान रखा जा रहा है। सिरोबगड़ में लगातार मलबा गिरने से सड़क अभी तक नहीं खुल पाई है.

राजस्थान के बूंदी में बिजली गिरने से तीन की मौत

राजस्थान के बूंदी जिले में भी मौसम बदला, जिससे लोगों की जान चली गई. बूंदी में बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत हो गई. यहां एक घर पर आकाशीय बिजली गिर गई, जिसके कारण घर के मलबे में दबकर तीन लोगों की जान चली गई. तीन लोग घायल भी हुए हैं, जिन्हें घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आकाशीय बिजली गिरने की यह घटना दबलाना थाना क्षेत्र के रघुनाथपुरा गांव में हुई.

यह भी पढ़ें: दिल्ली-एनसीआर, यूपी-हरियाणा में धूल भरी आंधी का अलर्ट, कर्नाटक और ओडिशा समेत इन राज्यों में होगी भारी बारिश, IMD ने जारी की चेतावनी