दोषसिद्धि के बाद अदालत के फैसले पर ट्रंप भड़के, बिडेन ने न्याय प्रणाली का सम्मान करने का आग्रह किया

छवि स्रोत : एपी
बिडेन ने न्याय प्रणाली के प्रति सम्मान का आग्रह किया।

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शुक्रवार को पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से न्याय प्रणाली का सम्मान करने का आग्रह किया है। इसके साथ ही उन्होंने जज के उस फैसले पर अनुचित व्यवहार न दिखाने का आग्रह किया है, जिसमें उन्हें ‘पोर्न स्टार’ स्टॉर्मी डेनियल्स को गुप्त रूप से पैसे देने के रिकॉर्ड से छेड़छाड़ के 34 आरोपों के तहत दोषी ठहराया गया है। आपको बता दें कि अमेरिकी कोर्ट के फैसले पर पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप भड़क गए। कोर्ट से बाहर आते ही उन्होंने मीडिया से बात की और इस फैसले को राजनीति से प्रेरित बताया। ट्रंप ने जज को विवादास्पद बताते हुए कहा कि यह सबसे भ्रष्ट सुनवाई है। इसका जवाब जनता 5 नवंबर को देगी।

जो बिडेन ने क्या कहा

राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा, “डोनाल्ड ट्रंप को अपना बचाव करने का हर मौका दिया गया। 12 जूरी सदस्यों ने यह फैसला सुना है। इस जूरी ने वही तरीका चुना है जो अमेरिका में हर जूरी ने चुना है। सावधानीपूर्वक विचार-विमर्श के बाद जूरी सर्वसम्मति से निर्णय पर पहुंची। उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप को सभी 34 गंभीर अपराधों का दोषी पाया। अब उन्हें एक मौका दिया गया है और उन्हें उस फैसले के खिलाफ अपील करनी चाहिए जैसे बाकी सभी को मौका मिलता है। अमेरिकी न्याय प्रणाली इसी तरह काम करती है।”

ट्रम्प के बयान की निंदा

जो बिडेन ने जूरी के फ़ैसले पर ट्रंप की टिप्पणियों की आलोचना की, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि फ़ैसले में धांधली की गई थी। व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए बिडेन ने कहा, “यह लापरवाही है, यह ख़तरनाक है, किसी के लिए यह कहना कि फ़ैसला धांधली वाला था, सिर्फ़ इसलिए कि उन्हें फ़ैसला पसंद नहीं है, गैर-ज़िम्मेदाराना है।” ट्रंप ने न्यूयॉर्क में पत्रकारों से कहा, “जहां तक ​​ट्रायल का सवाल है, यह बहुत अनुचित था। आपने देखा कि हमारे कुछ गवाहों के साथ क्या हुआ।” (इनपुट भाषा)

यह भी पढ़ें-

अमेरिकी कोर्ट के फैसले पर भड़के ट्रंप, कहा- राजनीतिक कारणों से हुई भ्रष्ट सुनवाई; 5 नवंबर को जनता देगी असली फैसला

रूस के अल्ताई में राष्ट्रपति पुतिन का घर जलकर राख, क्या यूक्रेन ने किया हमला या फिर रहस्यमयी आग?

नवीनतम विश्व समाचार