दो दिन में गाजा पर दूसरा जमीनी हमला, ईरान की धमकियों का इजराइल पर कोई असर नहीं

गाजा पर लगातार हमले कर रही इजरायली सेना - इंडिया टीवी हिंदी

छवि स्रोत: पीटीआई
इजरायली सेना लगातार गाजा पर हमले कर रही है

इज़राइल हमास युद्ध: इजराइल और हमास के बीच जंग थम नहीं रही है. इजराइल ने दो दिन में दूसरी बार गाजा पट्टी पर बड़ा हमला किया है. इजरायली सेना ने गाजा शहर के बाहरी इलाके को निशाना बनाया. ईरान की धमकियों का भी इजराइल की सेना पर कोई असर नहीं हुआ है. ईरान ने चेतावनी दी थी कि अगर इजरायल ने जमीनी हमले के लिए गाजा में कदम रखा तो उन्हें वहीं दफना दिया जाएगा. लेकिन इजराइल ने दो दिन में दूसरी बार गाजा पर जमीनी हमला किया. इजरायली सेना ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

अमेरिका भी युद्ध में कूद पड़ा

इस दौरान अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने पूर्वी सीरिया में कुछ जगहों पर हमले भी किये. अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के कार्यालय पेंटागन ने कहा कि ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी) के ठिकानों पर शुक्रवार तड़के हवाई हमले किए गए। ये हवाई हमले पिछले सप्ताह क्षेत्र में अमेरिकी सैन्य ठिकानों और कर्मियों पर ड्रोन और मिसाइल हमलों के जवाब में किए गए थे। इन हमलों ने गाजा युद्ध को लेकर क्षेत्रीय तनाव को और बढ़ा दिया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हमास शासित गाजा में इजरायली हमलों में 2,900 से अधिक नाबालिगों और 1,500 से अधिक महिलाओं सहित 7,000 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं।

हमास के आतंकियों ने मौत का तांडव मचाया था

हमास ने 7 अक्टूबर को दक्षिणी इज़राइल में अप्रत्याशित हमला किया, जिसके जवाब में इज़राइल ने कई विनाशकारी हवाई हमले किए। इज़राइल और हमास के बीच पिछले सभी चार हमलों में लगभग 4,000 लोग मारे गए थे। इज़रायली सरकार के अनुसार, हमास के शुरुआती हमले के दौरान इज़रायल में 1,400 से अधिक लोग मारे गए, जिनमें अधिकतर नागरिक थे। हमास ने गाजा में कम से कम 229 लोगों को बंदी बना लिया है. इस महीने की शुरुआत में दक्षिणी इज़राइल पर हमास के हमले के बाद गाजा गंभीर घेराबंदी में है और भोजन, पानी और दवा की कमी हो रही है।

गाजा के बाहरी इलाके में बमबारी

इजरायली सेना ने कहा कि जमीनी बलों ने पिछले 24 घंटों में गाजा के अंदर दर्जनों आतंकवादी ठिकानों पर हमला किया। उन्होंने बताया कि इस दौरान गाजा शहर के बाहरी इलाके शिजाइयाह पर विमानों और तोपों से बमबारी की गई. सेना ने कहा कि हमले को अंजाम देने के बाद सैन्यकर्मी बिना किसी नुकसान के इलाके से बाहर आ गए.

नवीनतम विश्व समाचार