पाकिस्तान में नए साल के जश्न पर लगी रोक, जानिए क्यों लिया गया ये बड़ा फैसला?

छवि स्रोत: फ़ाइल
पाकिस्तान में नए साल के जश्न पर रोक

पाकिस्तान ने नए साल के जश्न पर लगाई रोक: पाकिस्तान में सरकार ने नए साल के जश्न पर रोक लगा दी है. पाकिस्तान के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवर-उल-हक कक्कड़ ने समारोहों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। उन्होंने घोषणा की कि गाजा के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए देश में नए साल के जश्न पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया है।

फिलिस्तीनियों के साथ एकजुटता दिखाने की अपील

राष्ट्र के नाम एक संक्षिप्त संबोधन में, काकर ने अपने देशवासियों से फिलिस्तीनियों के साथ एकजुटता दिखाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, “फिलिस्तीन में गंभीर चिंताजनक स्थिति को देखते हुए और हमारे फिलिस्तीनी भाइयों और बहनों के साथ एकजुटता दिखाते हुए, सरकार नए साल का जश्न मनाने के लिए सभी प्रकार के आयोजनों पर सख्त प्रतिबंध लगाती है।” ‘

इजरायली बमबारी में 21 हजार फिलिस्तीनियों की मौत हो गई

काकर ने कहा कि 7 अक्टूबर को इजरायली बमबारी शुरू होने के बाद से, इजरायली बलों ने “हिंसा और अन्याय की सभी सीमाएं पार कर ली हैं और लगभग 9,000 बच्चों सहित 21,000 से अधिक फिलिस्तीनियों को मार डाला है।” गाजा और वेस्ट बैंक में निर्दोष बच्चों और निहत्थे फ़िलिस्तीनियों के नरसंहार से मुस्लिम जगत बहुत दुखी है।

पाकिस्तान जॉर्डन और मिस्र से बात कर रहा है

काकर ने कहा कि पाकिस्तान ने फिलिस्तीन को दो सहायता पैकेज भेजे हैं और तीसरा पैकेज तैयार किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान फिलिस्तीन को समय पर सहायता प्रदान करने और गाजा में मौजूद घायलों को निकालने के लिए जॉर्डन और मिस्र के साथ बातचीत में लगा हुआ है। (इनपुट भाषा)

नवीनतम विश्व समाचार