पाकिस्तान में सांसदों ने राष्ट्रपति चुनाव में किया मतदान, क्या आसिफ अली जरदारी चुनाव जीतें/पाकिस्तान में सांसदों ने राष्ट्रपति चुनाव में किया मतदान, जानिए किसका पलड़ा भारी

छवि स्रोत: एपी
प्रतीकात्मक फोटो

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की नेशनल असेंबली और प्रांतीय असेंबलियों के सदस्यों ने शनिवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान किया, जिसमें आसिफ अली जरदारी की जीत लगभग तय मानी जा रही है. अगर जरदारी निर्वाचित होते हैं तो वह दूसरी बार पाकिस्तान के राष्ट्रपति बनेंगे. पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने 68 वर्षीय जरदारी को अपना संयुक्त उम्मीदवार घोषित किया है। सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल (एसआईसी) के 75 वर्षीय उम्मीदवार महमूद खान अचकजई राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़ रहे हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के 14वें राष्ट्रपति के लिए मतदान सुबह 10 बजे शुरू हुआ और शाम 4 बजे तक चलेगा. पाकिस्तान के नए राष्ट्रपति मौजूदा राष्ट्रपति डॉ. आरिफ़ अल्वी की जगह लेंगे, जिनका पांच साल का कार्यकाल पिछले साल ख़त्म हो गया था. हालाँकि, वह नए निर्वाचक मंडल के गठन तक पद पर बने रहेंगे। संविधान के अनुसार, राष्ट्रपति का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से एक निर्वाचक मंडल द्वारा किया जाता है जिसमें संघीय और प्रांतीय नीति निर्माता शामिल होते हैं।

पीएम शाहबाज शरीफ से लेकर इन नेताओं ने डाला वोट

मतदान के लिए संसद भवन और प्रांतीय विधानसभाओं की इमारतों को मतदान केंद्र में तब्दील कर दिया गया है. जरदारी ने संसद के संयुक्त सत्र में राष्ट्रपति चुनाव में अपना वोट डाला. दोपहर तक वोट डालने वाले प्रमुख नेताओं में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, पीपीपी नेता बिलावल भुट्टो जरदारी, पीटीआई पार्टी के नेता उमर अयूब और पीएमएल-एन के इशाक डार शामिल थे। बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा कि उनके पिता आसिफ जरदारी एक बार फिर राष्ट्रपति बनेंगे. (भाषा)

ये भी पढ़ें

पाकिस्तान में व्हाट्सएप संदेशों के माध्यम से ‘ईशनिंदा’ के लिए 22 वर्षीय छात्र को मौत की सजा, नाबालिग को आजीवन कारावास

इजरायली प्रधानमंत्री नेतन्याहू से बेहद नाराज हैं जो बिडेन, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कही ये बात

नवीनतम विश्व समाचार