पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ने तोशाखाना की सजा के खिलाफ इमरान खान की अपील लौटा दी

इमरान खान: पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के संस्थापक और पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने तोशाखाना मामले में इमरान खान की याचिका लौटा दी है. पाकिस्तान स्थित जियो न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में इसकी पुष्टि की है.

रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान की शीर्ष अदालत के कार्यालय ने इमरान खान की ओर से दायर अपील पर आपत्ति जताई है. सुप्रीम ने कहा कि अपील से जुड़े दस्तावेज अधूरे हैं. इसमें कहा गया कि सभी संबंधित दस्तावेजों के साथ छह जनवरी को दोबारा अपील दायर की जा सकती है। पीटीआई संस्थापक के वकील सरदार लतीफ खोसा ने संविधान के अनुच्छेद 185 के तहत अपील दायर की थी।

खान को तोशाखाना मामले में सज़ा सुनाई गई थी

गौरतलब है कि 5 अगस्त, 2023 को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एडीएसजे) हुमायूं दिलावर ने पूर्व प्रधानमंत्री को तीन साल की जेल और 100,000 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई थी. सुनवाई के दौरान जज ने खान को तोशाखाना मामले में भ्रष्टाचार का दोषी पाया था. इस दौरान, खान को पांच साल तक किसी भी सार्वजनिक पद पर रहने के लिए अयोग्य घोषित कर दिया गया।

इमरान खान चुनाव लड़ने की कोशिश कर रहे हैं

पीटीआई के संस्थापक ने आगामी आम चुनाव लड़ने के लिए मामले में दोषसिद्धि को पलटने के अपने प्रयासों के तहत तोशाखाना मामले में इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) के आदेश के खिलाफ शनिवार को सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की। इससे पहले, इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) ने तोशाखाना मामले में ट्रायल कोर्ट के फैसले को निलंबित करने की मांग करने वाली पीटीआई अध्यक्ष की याचिका खारिज कर दी थी।

आईएचसी के फैसले के खिलाफ याचिका दायर

नई याचिका में खान ने आईएचसी के फैसले पर रोक लगाने की मांग की और कहा कि तोशाखाना मामले में उनकी सजा पहले ही निलंबित कर दी गई थी। आपको बता दें कि इमरान खान पर सरकारी खजाने से तोहफे बेचने का आरोप लगा था. इमरान खान को ये तोहफे उनके विदेशी दौरों के दौरान मिले थे.

यह भी पढ़ें: दुनिया के सबसे बड़े होंठों वाली महिला खुद को देती है अजीबो-गरीब क्रिसमस गिफ्ट, हालात देखकर बढ़ी परिवार की टेंशन