पीएम नरेंद्र मोदी की टिप्पणी कांग्रेस राहुल गांधी के लिए एक और सीट की घोषणा करेगी वायनाड सीट लोकसभा चुनाव 2024

राहुल गांधी पर पीएम मोदी: लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी जोर-शोर से प्रचार में जुटी हुई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर बीजेपी के तमाम दिग्गज नेता अलग-अलग राज्यों में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. इस बीच एशियानेट न्यूज को दिए इंटरव्यू में पीएम मोदी ने बिना नाम लिए कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा.

‘कांग्रेस के युवराज करेंगे किसी और सीट का ऐलान’

राहुल गांधी के वायनाड सीट से चुनाव लड़ने पर पीएम मोदी ने बिना नाम लिए कहा, ‘कांग्रेस के युवराज उत्तर से भागकर दक्षिण में शरण ले चुके हैं. वायनाड में 26 तारीख को मतदान होगा, उनके लिए एक और सीट की घोषणा की जाएगी.

पीएम मोदी ने कहा, ”मैंने संसद में भी घोषणा की थी कि उनके बड़े नेता अब लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे, अब वे राज्यसभा जाएंगे. मेरे यह कहने के एक महीने बाद कांग्रेस के एक बड़े नेता को आना पड़ा.” राज्यसभा से ”उन्हें लोकसभा छोड़नी पड़ी. कांग्रेस पहले ही हार स्वीकार कर चुकी है।”

पीएम मोदी ने दक्षिण भारत में बीजेपी की स्थिति पर बात की

दक्षिण भारत में बीजेपी की स्थिति पर पीएम मोदी ने कहा, ”राम मंदिर के अनुष्ठान को लेकर जब मैं दक्षिण भारत गया तो देखा कि लोगों का मिथक टूट रहा है. भारतीय जनता पार्टी को जल्द ही सेवा करने का मौका मिलेगा.” दक्षिणी राज्यों से अधिक से अधिक सांसद चुने जायेंगे और इन जगहों पर पार्टी का वोट शेयर काफी बढ़ जायेगा।”

‘कांग्रेस और कम्युनिस्ट एक ही सिक्के के दो पहलू हैं’

पीएम मोदी ने कहा, ”कांग्रेस और कम्युनिस्ट एक ही सिक्के के दो पहलू हैं, ये बिल्कुल भी अलग नहीं हैं. हमने हमेशा पिनाराई विजयन की भ्रष्टाचार में डूबी सरकार को बेनकाब किया है. कम्युनिस्ट पार्टी पर भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद का कोई आरोप नहीं लगा. लेकिन आज, इन दोनों में से केरल कम्युनिस्ट पार्टी ने बाकियों को पीछे छोड़ दिया है, भाई-भतीजावाद की हालत तो बिहार के कुछ कुख्यात नेताओं से भी बदतर है.

वीआईपी कल्चर पर क्या बोले पीएम?

वीआईपी कल्चर को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ”अंग्रेजों के जाने के बाद देश से वीआईपी कल्चर खत्म हो जाना चाहिए था, लेकिन नहीं गया. हमारे नेताओं ने इसे जारी रखा. जब मैं आया तो सबसे पहला काम किया, लाल बत्ती नहीं. । मैं सहमत हूं।” मैं कोई वीआईपी नहीं हूं, मेरे लिए इसका मतलब है कि हर व्यक्ति महत्वपूर्ण है। मैं वीआईपी संस्कृति के खिलाफ जितना कर सकता हूं उतना करूंगा।”

केंद्रीय जांच एजेंसी पर क्या बोले पीएम?

पीएम मोदी ने कहा, ”भ्रष्टाचार के खिलाफ ईडी ने जितने मामले दर्ज किए हैं, उनमें से सिर्फ 3 फीसदी ही राजनीति से जुड़े हैं. भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कोई संस्था बनाई गई है, अगर वह काम नहीं करती है तो सवाल पूछे जाने चाहिए. ऐसा नहीं होता है” प्रश्न पूछने का कोई मतलब नहीं है इसलिए यह काम करता है।”

यह भी पढ़ें: चुनाव 2024: पूर्व मुख्यमंत्री की बेटी और मौजूदा सीएम जगन मोहन की बहन, लेकिन नहीं है एक भी कार, जानिए शर्मिला रेड्डी के पास है कितनी संपत्ति