पीएम मोदी ने इस बार शपथ ग्रहण समारोह में पहनी नीली जैकेट, 2014 और 2019 के शपथ ग्रहण समारोह में क्या था इसका रंग

हाइलाइट

इस बार मोदी ने शपथ ग्रहण समारोह में पहली बार रॉयल ब्लू रंग की जैकेट पहनीराष्ट्रपति भवन में शपथ लेते समय हर बार उनकी जैकेट का रंग बदलता रहता है मोदी हमेशा सार्वजनिक जगहों पर अपनी खास स्टाइल वाली जैकेट में नजर आते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शाम 7.24 बजे तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। उनका शपथ ग्रहण समारोह शाम 7.25 बजे समाप्त हुआ। इस बार जब मोदी ने शपथ ली तो उन्होंने रॉयल ब्लू जैकेट पहन रखी थी। मोदी हमेशा एक खास तरह की जैकेट पहनते हैं, जो मोदी जैकेट के नाम से मशहूर हो गई है। क्या आप जानते हैं कि हर बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद उन्होंने अलग रंग की जैकेट पहनी थी?

मोदी एक खास तरह की जैकेट पहनते हैं। आमतौर पर यह जैकेट उनके लिए अहमदाबाद में ही सिलवाई जाती है। वे हमेशा अलग-अलग मौकों पर अलग-अलग रंग की जैकेट पहने नजर आते हैं। इस बार जब उन्होंने तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली तो उन्होंने इस मौके के लिए रॉयल ब्लू रंग चुना।

जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। (पीटीआई)

नीला रंग का क्या मतलब है
भारत की ज्योतिषीय परंपराओं में नीले रंग को एक शक्तिशाली और गहरा रंग माना जाता है। यह स्थिरता, ज्ञान, आत्मनिरीक्षण और आध्यात्मिक गहराई जैसे गुणों को दर्शाता है। नीला रंग अक्सर गले के चक्र से जुड़ा होता है, जिसे संचार और आत्म-अभिव्यक्ति के लिए जिम्मेदार माना जाता है।

यह रंग भावनाओं, ज्ञान और संवेदनशीलता का प्रतिनिधित्व करता है। ऐसा माना जाता है कि नीला रंग मन को संतुलित और शांत करने में मदद कर सकता है, जिससे शांति को बढ़ावा मिलता है। रॉयल ब्लू रंग अक्सर वफादारी अधिकार जैसे गुणों से जुड़ा होता है। यह शक्ति, सुधार और शांति को दर्शाता है। यह बुद्धिमत्ता, आत्मविश्वास और स्थिरता का भी प्रतीक है।

2014 में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हुए (पीटीआई)

जब उन्होंने पहली बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली
अब आपको बता दें कि जब मोदी ने 26 मई 2014 को शाम 06.13 बजे पहली बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी, तब उन्होंने हल्के भूरे रंग की जैकेट पहनी थी। उस समय उन्हें तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शपथ दिलाई थी।

भूरा रंग अक्सर व्यावहारिकता, ताकत और व्यावहारिक स्वभाव से जुड़ा होता है। ऐसा माना जाता है कि भूरे रंग से प्रभावित लोग विश्वसनीय, मेहनती और व्यावहारिक होते हैं। उनका जीवन के प्रति व्यावहारिक दृष्टिकोण होता है। वे अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए धैर्य और दृढ़ता के लिए जाने जाते हैं।

जब नरेंद्र मोदी ने 2019 में दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली (ट्विटर हैंडल)

2019 में जब वे दूसरी बार पीएम बने
इसके बाद साल 2019 में जब उन्होंने बीजेपी को प्रचंड बहुमत दिलाकर सरकार बनाई तो दूसरी बार राष्ट्रपति भवन में शपथ लेने गए तो उन्होंने हल्के भूरे रंग की जैकेट पहनी थी। इस बार उन्हें तत्कालीन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शपथ दिलाई थी। तब मोदी ने 25 कैबिनेट मंत्रियों, 9 स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्रियों और 24 राज्य मंत्रियों के साथ शपथ ली थी। हर बार वे सफ़ेद शेरवानी और कुर्ता पहनकर शपथ लेने आए थे।

टैग: नरेंद्र मोदी, शपथ समारोह