पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर पाकिस्तान कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला, संपत्ति लौटाने का दिया आदेश पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर पाकिस्तान कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला, जानें क्या होगा आगे?

छवि स्रोत: एपी
नवाज शरीफ, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री.

पाकिस्तान की अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ एक मामले में बड़ा फैसला सुनाया है. आपको बता दें कि नवाज शरीफ 4 साल के विदेश निर्वासन के बाद अक्टूबर के आखिरी हफ्ते में ही लौटे हैं। इस बार वह फिर से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद के लिए दावा ठोक रहे हैं. ऐसे समय में पाकिस्तान का ये फैसला नवाज शरीफ के लिए और भी अहम हो जाता है. आइए अब आपको बताते हैं कि नवाज शरीफ के किस मामले में कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है।

मामला भ्रष्टाचार से जुड़ा है, जिसमें उन्हें सजा भी हुई और देश से निर्वासित भी रहना पड़ा। लेकिन अब पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने नवाज शरीफ को अस्थायी राहत दी है और अधिकारियों को भ्रष्टाचार मामले में 2020 में जब्त की गई उनकी सभी चल और अचल संपत्तियों को वापस करने का आदेश दिया है। अखबार ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ में छपी खबर के मुताबिक, इस्लामाबाद जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश मोहम्मद बशीर ने शुक्रवार को पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) नेता शरीफ (73) के खिलाफ तोशाखाना भ्रष्टाचार मामले की सुनवाई की. इसके बाद यह फैसला सुनाया गया है.

गिरफ्तारी वारंट भी रद्द

साढ़े चार साल के आत्म-निर्वासन के बाद नवाज़ शरीफ़ 21 अक्टूबर को स्वदेश लौटे। जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश बशीर को सूचित किया गया कि चूंकि शरीफ ने आत्मसमर्पण कर दिया है और उनकी गिरफ्तारी के लिए जारी वारंट रद्द कर दिया गया है, इसलिए उनकी संपत्ति जब्त करने का आदेश वापस लिया जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, तोशाखाना मामले में अपराधी घोषित किए जाने के बाद 2020 में तीन बार प्रधानमंत्री रहे शरीफ की कृषि भूमि, मर्सिडीज बेंज कार, लैंड क्रूजर कार और अन्य वाहन जब्त कर लिए गए थे। (भाषा)

ये भी पढ़ें

नवीनतम विश्व समाचार