फोन चार्जर, सिम कार्ड, गधा गाड़ी, बैंगन… पाकिस्तान में अजीबोगरीब चुनाव चिन्ह, 8 फरवरी को इन पर डाले जाएंगे वोट

छवि स्रोत: पीटीआई
इन पर पाकिस्तान में 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे

पाकिस्तान चुनाव समाचार: पाकिस्तान में 8 फरवरी को आम चुनाव होने हैं. इसके लिए मतपत्र छपकर तैयार हो गए हैं। खास बात यह है कि आप यह जानकर दंग रह जाएंगे कि चुनाव आयोग द्वारा दिए गए चुनाव चिन्ह कितने अजीब हैं। इन चुनाव चिन्हों को लेकर कई उम्मीदवारों ने अपनी आपत्ति भी जताई है. 8 फरवरी को होने वाले चुनाव पर दुनिया की नजर है. इस चुनाव में तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ पीएम पद की रेस में हैं. शाहबाज सरकार में विदेश मंत्री रहे बिलावल भुट्टो भी पीएम पद की दौड़ में हैं. जानिए आयोग ने चुनाव के लिए कौन से अजीबोगरीब चुनाव चिन्ह जारी किए हैं.

8 फरवरी को होने वाले आम चुनाव में उम्मीदवार मोबाइल फोन चार्जर, सिम कार्ड, गधा गाड़ी, बैंगन, जूते आदि चुनाव चिन्ह के साथ जनता के बीच गए हैं. ऐसे कई चुनाव चिह्न हैं जिन्हें पाकर कई उम्मीदवार शर्मिंदा होते हैं। पश्तो भाषा में ‘बोतल’ शब्द का प्रयोग मूर्ख व्यक्ति के लिए किया जाता है और उम्मीदवार को ‘बोतल’ चुनाव चिन्ह मिला होता है.

यह आरोप अभ्यर्थियों ने लगाया

पूर्व पीएम इमरान खान के समर्थक आमिर मुगल को बैगन चुनाव चिन्ह मिला है. एक प्रत्याशी को ‘बोतल’ चुनाव चिन्ह मिला है. उम्मीदवारों को जूता, वॉश बेसिन, चिमटा, पिंजरा, नेल कटर, मोबाइल फोन चार्जर, सिम कार्ड, स्क्रू, चम्मच, तवा, शटलकॉक जैसे चुनाव चिन्ह भी दिए गए हैं. इन उम्मीदवारों का आरोप है कि चुनाव आयोग ने जानबूझकर उन्हें अपमानजनक और अजीब चुनाव चिह्न दिए हैं. यह विवाद इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) का चुनाव चिन्ह रद्द किए जाने के बाद शुरू हुआ. पिछले महीने ही उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) का चुनाव चिन्ह बल्ला भी उनसे छीन लिया गया था.

अब इमरान की पार्टी से निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं.

पीटीआई उम्मीदवार अब स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं। बैगन चुनाव चिन्ह से अमीर मुगल नाखुश हैं, लेकिन अब चुनाव में सिर्फ 1 दिन बचा है तो उनके पास कोई विकल्प नहीं है. इसलिए अब उन्हें इसी चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ना होगा.

चुनाव के लिए 26 करोड़ मतपत्र छपवाए गए

पाकिस्तान 8 फरवरी को आम चुनाव के लिए तैयार है. बड़ी मुश्किल से चुनाव आयोग ने 8 फरवरी की तारीख तय की थी. पाकिस्तान में मतदान के लिए 26 करोड़ मतपत्र छापे गए हैं. इसका कुल वजन लगभग 2100 टन है। वहीं कुल 22 करोड़ आबादी में से 12.69 करोड़ मतदाता नई सरकार का चुनाव करेंगे.

सरकार बनाने के लिए इन पार्टियों के बीच अहम मुकाबला

नवाज शरीफ, बिलावल भुट्टो और इमरान खान, ये तीन पाकिस्तान के सबसे बड़े ध्वजवाहक हैं. इनमें इमरान खान जेल गए. अब बचे हैं नवाज और बिलावल. ऐसे में नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज, पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) और बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी. इन तीनों पार्टियों के उम्मीदवारों के बीच मुकाबला होगा.

नवीनतम विश्व समाचार