बचपन के स्कूल पहुंचे मनोज बाजपेयी, बेटी के साथ ट्रैक्टर पर सवार हुए, दिखाया भोजपुरी अंदाज

पर प्रकाश डाला गया

मनोज बाजपेयी 25 दिसंबर से अपने परिवार के साथ बेतिया के अपने गांव बेलवा पहुंचे हैं.
मुंबई की चकाचौंध भरी जिंदगी छोड़ गांव की गलियों में घूम रहे हैं मनोज बाजपेयी

बेटी। मशहूर फिल्म अभिनेता मनोज बाजपेयी अपने परिवार के साथ अपने गांव बेलवा पहुंच गए हैं और पिछले कई दिनों से अपने गांव, खेत-खलिहान समेत पूरे इलाके में घूम रहे हैं. वे अपने बचपन की यादें ताजा कर रहे हैं और अपने परिवार से भी मिलवा रहे हैं. इसी क्रम में मनोज बाजपेयी उत्क्रमित मध्य विद्यालय बेलवा स्कूल पहुंचे और स्कूल के बच्चों से भोजपुरी में बात की. यहां उन्होंने छात्रों को बेहतर भविष्य के टिप्स दिए. मनोज बाजपेयी ने अपने बचपन के छात्र जीवन को स्कूली बच्चों के साथ साझा किया.

25 दिसंबर से मनोज बाजपेयी अपने परिवार के साथ गौनाहा प्रखंड के बेलवा गांव पहुंचे हैं. पिछले तीन दिनों से हम अपने गांवों के खेत, खलिहान, नदियां, पहाड़ और जंगल देख रहे हैं। इस दौरान बेलवा बाजार में स्कूली बच्चों से बातचीत की. मनोज बाजपेयी ने बच्चों से भोजपुरी में बात की. मनोज बाजपेयी स्कूल में एक कार्यक्रम के तहत उत्क्रमित मध्य विद्यालय बेलवा पहुंचे थे. जहां बच्चों ने मनोज बाजपेयी का भव्य स्वागत किया.

निपुण भारत के तहत आयोजित कार्यक्रम में मनोज बाजपेयी ने हिस्सा लिया. वहीं, मनोज को भी ट्रैक्टर पर सवार होकर गांव में घूमते देखा गया है. इस दौरान मनोज बाजपेयी ने अपने जीवन के संघर्षों को भी छात्रों के बीच साझा किया. उन्होंने मुझे बेहतर शिक्षा पाने के लिए प्रेरित किया. इस दौरान उन्होंने लोगों में शिक्षा की अलख जगाने की बात कही. मिशन निपुण बिहार शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मनोज बाजपेयी की भागीदारी से छात्र काफी खुश दिखे.

कार्यक्रम के दौरान बच्चों से बात करते हुए मनोज बाजपेयी एक आम आदमी की तरह नजर आ रहे हैं. मनोज बाजपेयी अपनी पत्नी नेहा और बेटी नायला के साथ गांव पहुंचे हैं। पिछले कुछ दिनों से एक्टर मनोज मुंबई की चकाचौंध भरी जिंदगी छोड़कर अपनी पत्नी और बेटी के साथ गांव की गलियों में घूमते नजर आ रहे हैं.

टैग: बिहार समाचार, मनोज बाजपेयी, मनोज बाजपेयी