भारत में नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल से डरी पाकिस्तान की शाहबाज सरकार, पाकिस्तानी अधिकारी ने खुद बताई अपनी सच्चाई

लोकसभा चुनाव परिणाम 2024: भारत में लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में एनडीए गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। चुनाव नतीजों को लेकर अभी तक पाकिस्तान सरकार की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। दूसरी ओर प्रधानमंत्री मोदी ने शाहबाज को सरकार बनने पर बधाई दी है। पाकिस्तानी मीडिया का कहना है कि पाकिस्तान सरकार का अनुमान है कि गठबंधन सरकार बनने के बाद बीजेपी हिंदुत्व की राह पर आक्रामक हो सकती है। पाकिस्तान का यह भी अनुमान है कि विपक्ष के मजबूत होने के बावजूद इस्लामाबाद के प्रति भारत का रवैया नहीं बदलेगा।

पाकिस्तान सरकार के एक अधिकारी ने ट्रिब्यून अखबार को बताया कि सरकार का आंतरिक आकलन है कि भारत में मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल में भी पाकिस्तान के प्रति रवैये में कोई बदलाव आने की उम्मीद नहीं है। उन्होंने कहा कि गरीबी, महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दे इस बार भारतीय राजनीति में मोदी की धर्म आधारित राजनीति पर हावी हो गए हैं। पाकिस्तान सरकार ने अपने आंतरिक आकलन में कहा है कि भाजपा अपनी परंपरागत सीटें बचाने में सफल रही है, लेकिन उत्तर प्रदेश में क्षेत्रीय दलों ने भाजपा को चतुराई से हराने में सफलता पाई है। इसके अलावा देशभर में मुस्लिम मतदाता मोदी के खिलाफ एकजुट हो गए।

पाकिस्तान को इस बात का डर
पाकिस्तान ने कहा कि इस चुनाव के बाद यह साफ हो गया है कि नरेंद्र मोदी अब बीजेपी और आरएसएस से बड़े नहीं रहे। भारत में एक बार फिर गठबंधन सरकार का दौर आ गया है। इस बार बीजेपी बहुत कम अंतर से जीती है। पाकिस्तान को आशंका है कि मोदी या तो अपना रास्ता बदलेंगे या फिर आक्रामक रुख अपनाएंगे। पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा, ‘भारत में मजबूत विपक्ष बीजेपी को हिंदुत्व की राह पर जाने के लिए मजबूर कर सकता है।’

भारत-पाकिस्तान संबंधों में सुधार की कोई गुंजाइश नहीं
पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा कि ‘मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल में घरेलू और विदेश नीति में कोई बदलाव नहीं होगा।’ पाकिस्तान और भारत के रिश्तों को लेकर पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा कि भारत चाहता है कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने को स्वीकार करे। ऐसे में मोदी सरकार द्वारा कोई बातचीत करने की संभावना नगण्य है।

यह भी पढ़ें: यूएई पहुंचा ‘खूंखार आतंकी’ सिराजुद्दीन हक्कानी, भड़के तालिबानी नेता, जानें क्या कहा