महुआ मोइत्रा ने पूछे गए अशोभनीय निजी सवाल का आरोप लगाते हुए एथिक्स कमेटी की बैठक से वॉकआउट किया, अब सोशल मीडिया पर बहस

महुआ मोइत्रा मामला: संसद में सवाल पूछने के लिए पैसे लेने के आरोप के मामले में टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा गुरुवार (2 नवंबर) को लोकसभा की एथिक्स कमेटी के सामने पेश हुईं। बीजेपी सांसद विनोद कुमार सोनकर की अध्यक्षता वाली आचार समिति ने मोइत्रा को पूछताछ के लिए बुलाया था.

समिति में शामिल विपक्षी सदस्यों ने महुआ मोइत्रा के साथ बैठक से वॉकआउट कर दिया. उन्होंने समिति के अध्यक्ष विनोद कुमार सोनकर पर मोइत्रा से व्यक्तिगत और अनैतिक सवाल पूछने का आरोप लगाया.

सांसदों के हंगामे का एक वीडियो सामने आया है. वीडियो में बसपा सांसद कहते नजर आ रहे हैं, ‘आपने वॉकआउट इसलिए किया क्योंकि आप रात को किससे बात करते हैं, क्या बात करते हैं, क्या ये बातें भी पूछेंगे, इसका मतलब क्या है?’ महुआ मोइत्रा ने कहा, ”वह बहुत बकवास कर रहे थे. आप क्यों बकवास कर रहे हैं?”

महुआ मोइत्रा मामले में सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं

वीडियो सामने आने के बाद इस मामले पर सोशल मीडिया पर यूजर्स की खूब प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. एमॉक नाम के एक यूजर ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लिखा, बैठक में अध्यक्ष और सदस्यों ने महुआ मोइत्रा से शर्मनाक और निजी सवाल पूछे, जिसके बाद उन्हें बाहर जाना पड़ा. ‘आप रात को किससे बात करते हैं?’ महुआ से ऐसे सवाल पूछे गये जिसके कारण उन्हें बैठक का बहिष्कार करना पड़ा. भाजपा बिना किसी शर्म के हर दूसरे दिन अपने सबसे निचले स्तर पर गिरती जा रही है।

‘चौंकाने वाला और दुखद’

टी अजीज लुथफुल्लाह नाम के यूजर ने लिखा, ‘यह चौंकाने वाला और दुखद है।’ इस तरह के कृत्य की लोकतांत्रिक मूल्यों को कायम रखने वाले सभी लोग निंदा करेंगे।” रवि सावलिया नाम के एक यूजर ने महुआ मोइत्रा की आंखें दिखाते हुए एक तस्वीर पोस्ट की और लिखा, ”बहुत सुंदर, बहुत सुंदर, बिल्कुल वाह जैसा दिखता है। रहा है।”

पीटर शिट नाम के एक यूजर ने महुआ मोइत्रा और दानिश अली को हैशटैग करते हुए लिखा, “गुंडे।”

भोलू नाम के यूजर ने लिखा, ”महुआ मोइत्रा सब पर भारी है.” वहीं, मुरलीर नाम के यूजर ने लिखा, ”रात को किससे बात करती हो…” महुआ मोइत्रा ने एथिक्स कमेटी की जांच का बहिष्कार किया. महुआ ने कहा कि वे गंदे सवाल पूछ रहे थे.

महुआ मोइत्रा पर क्या है आरोप?

आपको बता दें कि बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने 15 अक्टूबर को लोकसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में आरोप लगाया था कि हाल के दिनों तक मोइत्रा द्वारा लोकसभा में पूछे गए 61 सवालों में से 50 सवाल अडानी समूह पर केंद्रित थे. .

उन्होंने शिकायत में कहा है कि कभी मोइत्रा के करीबी रहे देहाद्राई ने अडानी ग्रुप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए मोइत्रा और कारोबारी दर्शन हीरानंदानी के बीच रिश्वत के लेन-देन के ऐसे सबूत साझा किए हैं जिन्हें खारिज नहीं किया जा सकता. इसके बाद दुबे की शिकायत लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने एथिक्स कमेटी को भेज दी.

(भाषा से भी इनपुट)

ये भी पढ़ें- ‘जवाब देने की बजाय महुआ मोइत्रा…’, अनैतिक सवाल पूछने के आरोप पर एथिक्स कमेटी के चेयरमैन ने क्या कहा?