मॉरीशस और यूएई के बाद अब मुस्लिम देश मालदीव में भी चलेगा RuPay कार्ड

भारत मालदीव संबंध: भारत का रुपे कार्ड जल्द ही मालदीव में लॉन्च किया जाएगा। इससे मालदीव की मुद्रा को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। यह कदम ऐसे समय उठाया जा रहा है जब मालदीव और भारत के बीच द्विपक्षीय संबंध थोड़े असहज हैं। दरअसल, नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) का रुपे भारत में वैश्विक कार्ड भुगतान नेटवर्क में शामिल पहला कार्ड है। एटीएम, सामान की खरीद-बिक्री और ई-कॉमर्स वेबसाइट पर भुगतान के लिए इसे भारत में व्यापक स्वीकृति मिली है।

आर्थिक विकास और व्यापार मंत्री मोहम्मद सईद ने भारत की रुपया सेवा शुरू करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि भारत और चीन द्विपक्षीय व्यापार में स्थानीय मुद्रा का उपयोग करने पर सहमत हुए हैं। सईद ने सरकारी समाचार चैनल पीएसएम न्यूज से कहा, “भारत की रुपया सेवा शुरू होने से मालदीव रूफिया (एमवीआर) को और बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।” उन्होंने यह भी कहा कि डॉलर के मुद्दे को सुलझाना और स्थानीय मुद्रा को मजबूत करना मौजूदा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

अब मालदीव में भी शुरू होगी रुपे सेवा

हालांकि, उन्होंने रुपे सेवा शुरू करने की कोई तारीख नहीं बताई। समाचार पोर्टल कॉरपोरेटमालदीव डॉट कॉम ने पिछले सप्ताह सईद के हवाले से कहा था कि इस कार्ड का इस्तेमाल मालदीव में रुपये में लेनदेन के लिए किया जाएगा। मंत्री ने कहा कि हम वर्तमान में भारत के साथ रुपये में भुगतान की सुविधा के तरीके खोजने के लिए चर्चा कर रहे हैं।

इन देशों में शुरू हो चुकी है सेवा

आपको बता दें कि भारत सरकार ने UPI को मजबूत करने के लिए सख्त कदम उठाए हैं। दुनिया के कई देशों में Rupay कार्ड सेवा शुरू की जा चुकी है। इसमें अब तक 7 देश शामिल हैं, जिनमें फ्रांस, सिंगापुर, मॉरीशस, श्रीलंका, भूटान और यूएई शामिल हैं।

ये भी पढ़ें- Canada Citizenship Law: कनाडा से आए भारतीयों के लिए खुशखबरी! ट्रूडो सरकार ने नागरिकता के नियमों में किया ये बड़ा बदलाव