यूपी-बिहार चेक पोस्ट पर चल रहा था बड़ा खेल, छापेमारी करने पहुंची पुलिस भी रह गई हैरान- एसपी ने की छापेमारी, 5 गिरफ्तार जेल से छूटे इंट्री माफियाओं ने यूपी बिहार के बलथरी चेक पोस्ट पर शुरू की अवैध वसूली– News18 हिंदी

पर प्रकाश डाला गया

यूपी-बिहार के बलथरी चेक पोस्ट पर छापेमारी से मचा हड़कंप, एक कार और रंगदारी के पैसे भी जब्त
एसपी के निर्देश पर पुलिस ने की कार्रवाई, ट्रकों व बसों को एंट्री दिलाने के नाम पर वसूलते थे पैसे

रिपोर्ट-गोविंद कुमार

गोपालगंज. गोपालगंज पुलिस ने यूपी-बिहार के बलथरी इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट पर इंट्री माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने छापेमारी कर पांच बड़े इंट्री माफियाओं को गिरफ्तार किया है. इनके पास से लग्जरी कारें और ड्राइवरों से वसूले गए पैसे जब्त किए गए हैं। गिरफ्तार इंट्री माफिया को कुचायकोट थाने की पुलिस थाने लाकर गहन पूछताछ कर रही है. वहीं पुलिस की इस कार्रवाई से बलथरी चेक पोस्ट पर सक्रिय इंट्री माफिया और दलालों में हड़कंप मच गया है.

पुलिस अधीक्षक स्वर्ण प्रभात ने बताया कि कुचायकोट थाना क्षेत्र के बलथरी चेक पोस्ट पर सूचना मिली थी कि कुछ इंट्री माफिया जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद यूपी से बिहार में प्रवेश करने वाले ट्रकों को अवैध इंट्री दिलाने के नाम पर फिर से सक्रिय हो गये हैं. वसूली कर रहे हैं. सूचना के आधार पर बलथरी चेक पोस्ट पर छापेमारी की गयी. छापेमारी के दौरान पांच बड़े दलालों को गिरफ्तार किया गया और उनके पास से एक कार और एक हजार रुपये नकद जब्त किये गये.

इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया

गिरफ्तार इंट्री माफियाओं में बलथरी गांव निवासी स्व. दीनानाथ तिवारी के पुत्र अवधेश तिवारी, शंभूनाथ शाही के पुत्र प्रवीण कुमार, सतीश शाही के पुत्र प्रवीण कुमार शाही, स्व. इनमें पप्पू यादव के बेटे मंटू यादव और बंका राय के बेटे पंकज राय शामिल हैं. एसपी ने बताया कि गिरफ्तार इंट्री माफियाओं में प्रवीण कुमार शाही और पंकज राय पहले भी जेल जा चुके हैं. प्रवीण कुमार शाही के खिलाफ कुचायकोट थाने में पिछले साल एक मार्च को मामला दर्ज किया गया था.

संरक्षकों की तलाश शुरू

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बलथरी चेक पोस्ट पर इंट्री माफिया को संरक्षण देने वाले लोगों की तलाश शुरू कर दी गयी है. जांच चल रही है कि किसके संरक्षण में एंट्री माफिया चेक पोस्ट पर सक्रिय था और वाहन चालकों से अवैध वसूली कर रहा था. एसपी ने कहा कि दलालों व इंट्री माफियाओं को संरक्षण देने वालों पर प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई की जायेगी.

इंट्री माफिया पहले भी जेल जा चुके हैं

इससे पहले भी पुलिस अधीक्षक ने बलथरी चेक पोस्ट पर छापेमारी कर ऐसे इंट्री माफियाओं को गिरफ्तार किया था, जो ट्रकों व बसों को इंट्री दिलाने के नाम पर चालकों से पैसे की उगाही करते थे. लगातार हो रही कार्रवाई से उम्मीद है कि बलथरी चेक पोस्ट पर सक्रिय इंट्री माफियाओं की संख्या में कमी आयेगी. हालांकि एसपी खुद बलथरी चेक पोस्ट पर निगरानी रख रहे हैं और छापेमारी कर रहे हैं.

टैग: बिहार समाचार, गोपालगंज खबर, गोपालगंज पुलिस