रूस में आतंकी हमले के बाद फ्रांस में बढ़ाई गई सुरक्षा, बरती जा रही है अतिरिक्त सतर्कता

छवि स्रोत: सोशल मीडिया
फ्रांस में सुरक्षा बढ़ाई गई (फाइल फोटो)

पेरिस: रूस में कॉन्सर्ट हॉल पर हुए हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है. रूस पर हमले के बाद अब फ्रांस ने भी देश में सुरक्षा उच्चतम स्तर तक बढ़ा दी है. फ्रांस के प्रधानमंत्री गेब्रियल अटाल ने सोशल मीडिया ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, “मॉस्को हमले की जिम्मेदारी आईएस द्वारा लिए जाने और देश पर मंडराते खतरों के कारण अधिकारी सावधानी बरत रहे हैं।” फ्रांस के कई शहरों में पुलिस की गश्त भी बढ़ा दी गई है.

राष्ट्रपति ने आपात बैठक बुलाई थी

आपको बता दें कि मॉस्को में शुक्रवार को हुए हमले के बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने आपात सुरक्षा बैठक भी बुलाई थी. इसके बाद सुरक्षा बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री की ओर से यह घोषणा की गई है. मॉस्को में हुए हमले में 130 से ज्यादा लोग मारे गए थे. फ्रांस को भी कई बार आईएस ने निशाना बनाया है. सबसे मशहूर हमला 2015 का है जब आतंकवादियों ने बाटाक्लान थिएटर में लोगों पर गोलीबारी की थी और उन्हें घंटों तक बंधक बनाए रखा था.

आरोपी ने जुर्म कबूल कर लिया है

इस बीच, यहां यह भी बता दें कि मॉस्को में एक कॉन्सर्ट हॉल पर हुए आतंकवादी हमले के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए चार संदिग्धों में से तीन ने रविवार को रूसी अदालत में सुनवाई के दौरान अपना अपराध कबूल कर लिया। इस हमले में 130 से ज्यादा लोग मारे गये थे. मॉस्को के बासमनी जिला न्यायालय ने औपचारिक रूप से 32 वर्षीय डेलरदज़ान मिर्जोयेव, 30 वर्षीय सईदाक्रामी रचाब्लिज़ोदा, 19 वर्षीय मुखमदसोबिर फ़ैज़ोव और 25 वर्षीय शम्सीदीन फ़रीदुनी पर आतंकवादी हमले का आरोप लगाया है। इस अपराध में अधिकतम आजीवन कारावास की सज़ा का प्रावधान है। ये सभी आरोपी ताजिकिस्तान के नागरिक हैं. एपी

यह भी पढ़ें:

रूस यूक्रेन युद्ध: हवाई क्षेत्र में घुसी रूसी मिसाइल, पोलैंड ने रूस से मांगा स्पष्टीकरण

रूस में आतंकियों के मारे जाने के बाद हालात भयावह, परिवारों को अपनों से उम्मीद…खोज रहे हैं…

नवीनतम विश्व समाचार