रेप के आरोप में बीजेपी नेता देवराजे गौड़ा गिरफ्तार, बढ़ी मुश्किलें, 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजे गए, प्रज्वल रेवन्ना कांड का हुआ खुलासा

हासन (कर्नाटक). भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता और पेशे से वकील को छेड़छाड़ और बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। देवराजे गौड़ा को शनिवार को एक अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। भाजपा नेता को चित्रदुर्ग जिले की हिरियुर पुलिस ने शुक्रवार देर रात गुलिहाल टोल गेट पर गिरफ्तार किया। गुप्त सूचना पर हसन पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि इससे पहले शनिवार को उन्हें पूछताछ के लिए हसन जिले के होलेनरासिपुरा ले जाया गया, जहां कथित तौर पर यह घटना हुई थी।

गौड़ा को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जिन्होंने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। हसन जिले की एक 36 वर्षीय महिला की शिकायत पर गौड़ा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिसने आरोप लगाया था कि भाजपा नेता ने उसकी संपत्ति बेचने में मदद करने के बहाने उसके साथ छेड़छाड़ और बलात्कार किया। एक पुलिस अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि गौड़ा के खिलाफ एक अप्रैल को छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया था. शुक्रवार को महिला एक बार फिर पुलिस के पास पहुंची और आरोप लगाया कि उसके साथ भी बलात्कार किया गया है.

गौरतलब है कि होलेनारासिपुरा पुलिस शनिवार सुबह चित्रदुर्ग पहुंची. कानूनी प्रक्रिया के बाद, हिरियूर पुलिस ने गौड़ा को होलेनारासीपुरा पुलिस को सौंप दिया। गौड़ा ने 2023 का विधानसभा चुनाव भाजपा के टिकट पर लड़ा था और जद (एस) विधायक और पूर्व मंत्री एचडी रेवन्ना से हार गए थे। उन्होंने यह भी दावा किया था कि उन्होंने पिछले साल प्रज्वल रेवन्ना द्वारा कई महिलाओं के कथित यौन शोषण के बारे में भाजपा नेतृत्व को सचेत किया था और पार्टी को हासन से जद (एस) सांसद को लोकसभा टिकट नहीं देने की चेतावनी दी थी।

हसन जिले की एक 36 वर्षीय महिला की शिकायत पर गौड़ा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिसने आरोप लगाया था कि भाजपा नेता ने उसकी संपत्ति बेचने में मदद करने के बहाने उसके साथ छेड़छाड़ और बलात्कार किया। एक पुलिस अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि गौड़ा के खिलाफ एक अप्रैल को छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया था. शुक्रवार को महिला एक बार फिर पुलिस के पास पहुंची और कार्रवाई की गुहार लगाई.

भाजपा नेता को चित्रदुर्ग जिले की हिरियुर पुलिस ने गुलिहाल टोल नाका से शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि हसन पुलिस से मिली गुप्त सूचना पर गौड़ा को गिरफ्तार किया गया. शनिवार सुबह होलेनरासिपुरा पुलिस चित्रदुर्ग पहुंची. कानूनी प्रक्रिया के बाद, हिरियुर पुलिस ने देवराज गौड़ा को होलेनरासिपुरा पुलिस को सौंप दिया।