लद्दाख राज्य की मांग गृह मंत्री अमित शाह ने एपेक्स बॉडी लेह और कारगिल डेमोक्रेटिक अलायंस प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की

लद्दाख मुद्दे पर अमित शाह: केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख, लेह (एबीएल) और कारगिल डेमोक्रेटिक अलायंस (केडीए) की सर्वोच्च संस्था के 6 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार (4 मार्च, 2024) को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। लद्दाख के लोगों के कल्याण के लिए बैठक बहुत सौहार्दपूर्ण ढंग से आयोजित की गई। इस दौरान भूमि, रोजगार और संवैधानिक सुरक्षा उपायों से संबंधित विभिन्न मुद्दों की प्रगति पर चर्चा की गई।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बैठक के दौरान प्रतिनिधिमंडल को गृह मंत्री अमित शाह ने आश्वासन दिया कि एबीएल और केडीए की मांगों पर विचार करने के लिए लद्दाख के लिए गठित हाई पावर कमेटी संवैधानिक सुरक्षा उपाय प्रदान करने के तौर-तरीकों पर चर्चा करेगी। रहा है।

‘सकारात्मक परिणाम मिलने तक मुद्दों पर बातचीत जारी रखें’

गृह मंत्री ने यह भी कहा कि क्षेत्र की अनूठी संस्कृति और भाषा की रक्षा, भूमि और रोजगार की सुरक्षा, समावेशी विकास और रोजगार सृजन, एलएएचडीसी के सशक्तिकरण और संवैधानिक सुरक्षा उपायों पर चर्चा करने के लिए इस उच्चाधिकार प्राप्त समिति के माध्यम से एक सलाहकार तंत्र स्थापित किया जाना चाहिए। . जांच आदि मुद्दों पर सकारात्मक नतीजे आने तक बातचीत जारी रहनी चाहिए.

गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय के साथ भी एपेक्स बॉडी की बैठक हुई

आपको बता दें, हाल ही में लद्दाख के विभिन्न संगठनों का प्रतिनिधित्व करने वाली शीर्ष संस्था लेह (एबीएल) और कारगिल डेमोक्रेटिक अलायंस (केडीए) के 14 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल और मंत्री की अध्यक्षता में लद्दाख के लिए गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति (एचपीसी) गृह राज्य नित्यानंद राय. एक बैठक भी हुई. इस बैठक में भी दोनों शीर्ष संस्थाओं के सदस्यों के बीच कई मुद्दों पर सहमति बनी. इसके चलते महत्वपूर्ण घटनाक्रम को देखते हुए लद्दाख के दोनों संगठनों ने 20 फरवरी 2024 से प्रस्तावित भूख हड़ताल करने का फैसला भी वापस ले लिया था.

यह भी पढ़ें: BRS Candidate List 2024: बीआरएस ने लोकसभा चुनाव के लिए चार सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की, जानिए किसे कहां से मिला टिकट