लोकसभा चुनाव 2024 में अटल बिहारी वाजपेयी के सामने कल्याण सिंह के बेटे पंकज सिंह को टिकट देने से राजनाथ सिंह ने किया इनकार

लोकसभा चुनाव 2024: लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) समेत सभी पार्टियां तैयारियों में जुट गई हैं. उत्तर प्रदेश की लखनऊ सीट से बीजेपी उम्मीदवार और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने बेटे से जुड़ा एक पुराना किस्सा सुनाया. उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने खुद अपने बेटे (पंकज सिंह) का टिकट काट दिया था, जिसके बाद पंकज सिंह भावुक हो गए.

ये दिग्गज नेता लाए थे पंकज सिंह का नाम

इंडिया टीवी से बात करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बीजेपी के दो वरिष्ठ नेताओं ने चुनाव लड़ने के लिए उनका नाम लेकर पंकज सिंह से संपर्क किया था, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, “वर्ष 2007 में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव थे. उस समय पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह और राजस्थान के वर्तमान राज्यपाल कलराज मिश्र वाराणसी के एक विधानसभा क्षेत्र से पंकज सिंह का नाम लेकर मेरे पास आए थे.”

राजनाथ सिंह ने टिकट देने से इनकार कर दिया

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ”उस वक्त मैं पार्टी का अध्यक्ष था. मेरे बगल में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई और पूर्व उपप्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी बैठे थे. मैंने उन दोनों नेताओं को मना कर दिया और कहा कि अपने हाथों से मैं अपने बेटे को टिकट नहीं दूंगा. जिसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा कि मैं इस फैसले से सहमत नहीं हूं.”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ”इसके बाद पंकज घर आया और मेरे पैर छुए. वह बहुत दुखी हुआ और अपनी मां के पास गया और शिकायत की. मैंने उससे साफ कह दिया कि मैं अपने बेटे को अपने हाथ से निशान नहीं दे सकता., क्योंकि मेरे लिए सब बराबर हैं. इसके बाद पंकज ने बहुत संयम से काम लिया. उन्होंने भावुक होकर कहा कि पापा, अगर आप मुझे नहीं चाहेंगे तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा.’

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2024: बंगाल में भेजी जाएंगी 945 से ज्यादा CAPF कंपनियां, न होगी हिंसा न हंगामा, बनाया गया ऐसा ‘मास्टरप्लान’