शक्ति के बारे में राहुल गांधी की टिप्पणी के बचाव में प्रियंका गांधी से लेकर दानिश अली और कांग्रेस ने क्या कहा?

सत्ता पर राहुल गांधी की टिप्पणी: कांग्रेस ने सोमवार (18 मार्च) को राहुल गांधी के ‘शक्ति’ वाले बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के हमले पर पलटवार करते हुए कहा कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष ने ‘राक्षसी शक्ति’ के खिलाफ लड़ने की बात कही है, जो बीजेपी और प्रधानमंत्री करेंगे. ‘बिलबिला’ गया.

राहुल गांधी ने भी अपने एक्स हैंडल से अपने बयान को समझाने की कोशिश की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उनकी बहन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी भाई राहुल के बचाव में उतरीं और पलटवार करते हुए पीएम मोदी पर देश की जनता का ध्यान भटकाने का आरोप लगाया.

वहीं, बसपा से निलंबित सांसद दानिश अली ने कहा कि शक्ति का उदाहरण सोनिया गांधी से लीजिए. आइए जानते हैं राहुल गांधी के बचाव में खुद राहुल और बाकी नेताओं ने क्या कहा.

मोदी जी को मेरी बातें पसंद नहीं- राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने बयान पर बीजेपी के हमले के जवाब में ट्विटर पर पोस्ट किया, ‘मोदी जी को मेरी बातें पसंद नहीं हैं, वह हमेशा किसी न किसी तरह से उन्हें तोड़-मरोड़ कर उनका मतलब बदलने की कोशिश करते हैं क्योंकि वह जानते हैं कि मैंने क्या बोला है. एक गहरा सच। जिस शक्ति का मैंने जिक्र किया, जिस शक्ति से हम लड़ रहे हैं, मोदी जी उसका मुखौटा हैं।

राहुल गांधी ने भारतीय संस्थानों, मीडिया, उद्योग और जांच एजेंसियों समेत पूरे संवैधानिक ढांचे पर कब्जा करने का आरोप लगाया. उन्होंने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए बैंकों के हजारों करोड़ के कर्ज, किसानों की आत्महत्या, बंदरगाह, एयरपोर्ट, अग्निवीर योजना, जीएसटी, महंगाई आदि मुद्दों का जिक्र किया. उन्होंने मीडिया पर भी सच दबाने का आरोप लगाया.

राहुल गांधी ने पोस्ट में लिखा, ”मैं उस शक्ति को पहचानता हूं, नरेंद्र मोदी जी भी उस शक्ति को पहचानते हैं, वह किसी भी प्रकार की धार्मिक शक्ति नहीं है, वह अधर्म, भ्रष्टाचार और असत्य की शक्ति है.” इसीलिए जब भी मैं उनके खिलाफ आवाज उठाता हूं तो मोदी जी और उनकी झूठ बोलने वाली मशीन परेशान और भड़क जाती है।’

राहुल गांधी के बचाव में प्रियंका गांधी ने क्या कहा?

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी की पोस्ट शेयर करते हुए पीएम मोदी पर हमला बोला. उन्होंने लिखा, देश की जनता महंगाई, बेरोजगारी और आर्थिक संकट से जूझ रही है. युवा निराश हैं. किसान आत्महत्या कर रहे हैं। महंगाई के कारण लोग अपना घर नहीं चला पा रहे हैं. नोटबंदी-जीएसटी ने लाखों उद्योगों को बर्बाद कर दिया। लेकिन प्रधानमंत्री की प्राथमिकता विपक्षी नेताओं के बयानों को तोड़ मरोड़कर जनता का ध्यान भटकाना है.

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा- राहुल ने आसुरी शक्ति से लड़ने की बात की.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख पवन खेड़ा ने कहा, ”राहुल गांधी ने जब से खुलकर आसुरी शक्ति के खिलाफ हमला बोला है, तब से प्रधानमंत्री और बीजेपी हल्ला मचा रहे हैं.” अब यह देश आसुरी शक्ति से नहीं बल्कि दैवीय शक्ति से चलेगा।

उन्होंने पीएम मोदी से पूछा, ”जब आपकी पार्टी कठुआ, उन्नाव, हाथरस में बलात्कारियों के पक्ष में मोर्चा निकाल रही थी, तब क्या आपको शक्ति की पूजा याद नहीं आई?” जब मणिपुर में महिलाओं को नग्न कर दौड़ाया जा रहा था, तब कौन सी ताकत आपको चुप करा रही थी? जब महिला पहलवान सड़कों पर थीं और बृजभूषण शरण सिंह आपके घर के अंदर थे, तब वे किस शक्ति की पूजा कर रहे थे?

खेड़ा ने दावा किया, ”यह चुनाव दैवीय शक्ति और आसुरी शक्ति के बीच होगा और जीत दैवीय शक्ति की होगी.” राहुल गांधी जीतेंगे. ‘भारत’ गठबंधन जीतेगा. इस देश का युवा जीतेगा. इस देश के किसानों की जीत होगी. भारत माता की जीत होगी.

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने क्या कहा?

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने पोस्ट किया, लटकती लाश पर चुप रहीं, हाथरस की दरिंदगी पर चुप रहीं। ये सभी शक्ति के रूप थे। पिछले 10 सालों में इस देश की बेटियों के साथ हुई हैवानियत को कोई नहीं भूला है.

उन्होंने दावा किया, “जब एक खोखले आदमी को रिमोट कंट्रोल के जरिए नियंत्रित करने वाली शक्तियों का पर्दाफाश हुआ तो ‘वसूली मैन’ स्तब्ध रह गया।”

राहुल गांधी के सत्ता वाले बयान पर क्या बोले सांसद दानिश अली?

सांसद दानिश अली ने कहा, ”अगर आप (बीजेपी) नारी शक्ति का उदाहरण लेना चाहते हैं तो राहुल गांधी की मां (सोनिया गांधी) से लें. अपने पति को खोने के बाद भी वह इस देश की सेवा के लिए डटी रहीं. राहुल गांधी हैं” उस माँ का बेटा.

राहुल गांधी का दमदार बयान

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार (17 मार्च) को ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के समापन के मौके पर मुंबई के शिवाजी पार्क में आयोजित ‘भारत’ गठबंधन की रैली में कहा था, ”हिंदू धर्म में एक शब्द है शक्ति. सत्ता से लड़ना…एक सत्ता से लड़ना। अब सवाल उठता है कि वो ताकत कौन सी है? जैसे किसी ने यहां कहा कि राजा की आत्मा ईवीएम में है। ये सच है… ये सच है कि राजा की आत्मा अंदर है ईवीएम… हिंदुस्तान की हर संस्था में है, ईडी में है, सीबीआई में है, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में है.

राहुल के सत्ता वाले बयान पर पीएम मोदी का हमला

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन पर मुंबई में एक रैली के माध्यम से ‘शक्ति’ के विनाश का बिगुल बजाने का आरोप लगाया और कहा कि उनके लिए हर मां और बेटी ‘शक्ति’ का अवतार हैं और उन्होंने इसके लिए अपनी जान जोखिम में डाल दी. उन्हें। दे देंगे। तेलंगाना के जगतियाल में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में लड़ाई ‘सत्ता तोड़ने वालों’ और ‘सत्ता के उपासकों’ के बीच है और 4 जून को यह स्पष्ट हो जाएगा कि ‘सत्ता को नष्ट करने वाला’ कौन होगा ‘. और किसको ‘शक्ति’ का वरदान प्राप्त है?

(भाषा इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें- शक्ति विवाद: ‘पीएम ने मेरी बातों को तोड़-मरोड़कर पेश किया’, ‘शक्ति’ विवाद पर पीएम मोदी ने साधा निशाना तो राहुल गांधी ने दिया ये जवाब