श्रीलंका की जेल से रिहा होंगे 43 पाकिस्तानी कैदी, दोनों देशों के बीच बनी सहमति

छवि स्रोत: फ़ाइल
श्रीलंका की जेल से रिहा होंगे पाकिस्तानी कैदी

इस्लामाबाद: श्रीलंका सरकार 43 पाकिस्तानी कैदियों को जेलों से रिहा करेगी ताकि वे अपने देश लौट सकें। यह दोनों देशों के बीच एक-दूसरे की जेलों में बंद कैदियों की स्वदेश वापसी को लेकर हुए समझौते का नतीजा है। शनिवार को मीडिया रिपोर्ट्स में यह जानकारी दी गई। ‘डॉन’ अखबार की खबर के मुताबिक, पाकिस्तान के गृह मंत्री मोहसिन नकवी ने शुक्रवार को श्रीलंका के उच्चायुक्त एडमिरल (सेवानिवृत्त) रवींद्र चंद्र श्रीविजय गुणरत्ने के साथ बैठक में दोनों देशों की जेलों में बंद कैदियों की स्वदेश वापसी पर सहमति जताई।

दोनों पक्ष सहमत हुए

बैठक के दौरान दोनों पक्षों ने आपसी हितों और द्विपक्षीय संबंधों के विकास के मुद्दों पर चर्चा की। रिपोर्ट में कहा गया है कि वे सुरक्षा और मादक पदार्थों के खिलाफ़ लड़ाई के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर भी सहमत हुए। पाकिस्तान का गृह मंत्रालय पिछले महीने से 43 पाकिस्तानी कैदियों को वापस लाने के लिए श्रीलंकाई अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है। इसके बाद नकवी ने घोषणा की कि पाकिस्तानी कैदियों की वापसी की व्यवस्था कुछ ही दिनों में पूरी कर ली जाएगी। मंत्री ने कैदियों की स्वदेश वापसी में सहयोग के लिए श्रीलंकाई उच्चायुक्त को धन्यवाद दिया।

पाकिस्तानी नागरिकों को सजा सुनाई गई

आपको बता दें कि, हाल ही में श्रीलंका की एक अदालत ने भारी मात्रा में मादक पदार्थों की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार दस पाकिस्तानी नागरिकों को 10-10 साल कैद की सजा सुनाई थी। पुलिस ने बताया था कि आरोपियों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया और बाद में उन्हें 10 साल कैद की सजा सुनाई गई। (भाषा)

यह भी पढ़ें:

सीएम केजरीवाल ने डाला वोट तो ये पाकिस्तानी नेता हुए अधीर, इसे कहते हैं ‘किसी और की शादी में अब्दुल्ला दीवाना’

अशांति में फंसे विमान के 43 यात्री अस्पताल में भर्ती, उन्हें रीढ़ की हड्डी और सिर में गंभीर चोटें आईं

नवीनतम विश्व समाचार