21 साल का लड़का… NIA और इंटरपोल को मुश्किल में डाल चुका है, अब विदेश में भी उसके पर कतर दिए गए

हाइलाइट

कुख्यात गैंगस्टर हिमांशु भाऊ का बेहद करीबी साहिल अमेरिका में पकड़ा गया। साहिल के खिलाफ इंटरपोल द्वारा रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया था।हिमांशु अमेरिका में बैठकर भारत में अपना साम्राज्य चला रहे हैं।

नई दिल्ली। भारतीय जांच एजेंसियों के लिए गुरुवार को एक अच्छी खबर आई। अमेरिका से भारत में हत्याएं करवाने वाले हरियाणा के 21 वर्षीय कुख्यात गैंगस्टर हिमांशु भाऊ के पंख काटे गए हैं। सूत्रों से आ रही खबर के मुताबिक हिमांशु के बेहद खास गुर्गे साहिल को अमेरिका में हिरासत में लिया गया है। साहिल के खिलाफ इंटरपोल की तरफ से रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया था। एनआईए ने साहिल पर इनाम भी घोषित किया था। साहिल की हिरासत की खबर के बाद से ही भारतीय सुरक्षा एजेंसियां ​​लगातार अमेरिकी एजेंसियों के साथ मिलकर हालात पर नजर रख रही हैं। अब देखना होगा कि उसे जल्द ही भारत वापस सौंपा जाता है या नहीं।

हरियाणा के रोहतक का रहने वाला साहिल लंबे समय से हिमांशु भाऊ के साथ अमेरिका में है और वहीं से भारत में अपना सिंडिकेट चला रहा है। एजेंसियों के मुताबिक, ‘साहिल ने फर्जी पते और फर्जी पहचान दस्तावेजों का इस्तेमाल कर पासपोर्ट हासिल किया। जिसकी मदद से वह भारत में अपने खिलाफ चल रही जांच से बचने के लिए विदेश भाग गया।’

यह भी पढ़ें:- विमान के इंजन की ओर खिंचता चला गया शख्स, यात्री ने सुनाया दर्दनाक मंजर, कहा- वो आवाज…

अमेरिका से दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा में हत्याएं की जा रही हैं…
जांच में पता चला कि पासपोर्ट में दिए गए पते पर साहिल कुमार नाम का कोई व्यक्ति नहीं रहता है और न ही पासपोर्ट में दिख रही तस्वीर से मिलता-जुलता कोई व्यक्ति कभी वहां रहा है। पासपोर्ट बनवाने के लिए साहिल कुमार ने जो पहचान पत्र दिखाए, वे फर्जी पाए गए। पुलिस के मुताबिक हिमांशु की तरह उसका साथी साहिल भी हत्या, हत्या की कोशिश, रंगदारी, आपराधिक साजिश जैसे मामलों में फरार है। वह अमेरिका से दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा और पंजाब में हत्याएं करवा रहा है। हाल ही में हिमांशु भाऊ के करीबी गैंगस्टर अजय को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एनकाउंटर में मार गिराया था।

कौन हैं हिमांशु भाऊ?
गैंगस्टर हिमांशु भाऊ हरियाणा के रोहतक के रिटोली गांव का रहने वाला है। उसकी उम्र महज 21 साल है। साल 2020 में 17 साल की उम्र में हिमांशु ने मामूली झगड़े में अपने ही गांव के एक युवक पर गोली चला दी थी। इस घटना की वजह से स्कूल में पढ़ने वाले हिमांशु की अपराध की दुनिया में एंट्री हुई। फायरिंग के बाद हिमांशु को गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन वह नाबालिग था इसलिए उसे हिसार के बाल सुधार गृह भेज दिया गया। वह बाल सुधार गृह से भागने में कामयाब रहा।

टैग: अमेरिका समाचार, दिल्ली गैंगस्टर, हरियाणा समाचार, राष्ट्रीय जांच एजेंसी