CPEC परियोजना को लेकर पाकिस्तानी नेताओं ने दिया बड़ा बयान तो दूसरी तरफ चीन ने साधी चुप्पी

सीपीईसी परियोजना: चीन और पाकिस्तान के बीच इन दिनों चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) को आगे बढ़ाने के लिए बातचीत चल रही है। हाल ही में इस मुद्दे पर दोनों देशों के अधिकारियों के बीच बैठक हुई थी। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ भी जल्द ही चीन का दौरा करने वाले हैं। पाकिस्तान की मीडिया के मुताबिक शाहबाज शरीफ का यह दौरा सीपीईसी परियोजना के दूसरे चरण से जुड़ा है। इस दौरान शाहबाज बिजली परियोजनाओं के लिए लोन और दोनों देशों के रिश्तों पर चर्चा करेंगे।

पाकिस्तान में नेताओं की तरफ से ऐसे बयान आ रहे हैं कि चीन उनके देश में बड़ा निवेश करने जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ द डॉन अखबार में एक लेख में पाकिस्तानी बिजनेस और इकोनॉमी जर्नलिस्ट खुर्रम हुसैन ने इस पूरे माहौल पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानियों को फिलहाल चीन से ज्यादा उम्मीद नहीं करनी चाहिए। खुर्रम ने अपने लेख में कहा है कि अगर किसी को लगता है कि चीन एक बार फिर पाकिस्तान में नए निवेश की तैयारी कर रहा है तो समझ लीजिए कि ऐसा कुछ नहीं होने वाला है। उन्होंने कहा कि CPEC को लेकर यह पुनरुद्धार का शोर दरअसल देश की हकीकत को छिपाने का एक तरीका है।

चीन की ओर से कोई बयान नहीं आया
पाकिस्तानी पत्रकार ने कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा किसी पुनरुद्धार की ओर नहीं बढ़ रहा है, ऐसा इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि चीन की ओर से ऐसा कोई बयान नहीं आया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान-चीन संबंधों में एक बात गौर करने लायक है कि पाकिस्तान में जो कुछ भी कहा जा रहा है उसे तब तक सही नहीं माना जाना चाहिए जब तक चीन की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आता।

चीन पाकिस्तान में निवेश करने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा है
खुर्रम हुसैन ने कहा कि चीन के पास इस पर बोलने के लिए कई चैनल हैं, लेकिन चीन ने सीपीईसी पर चुप्पी साध रखी है। उन्होंने कहा कि 29 मई को चीनी समाचार एजेंसी शिन्हुआ में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी, जिसमें शाहबाज शरीफ के सीपीईसी मुद्दे को खूब कवरेज मिली, लेकिन पूरी रिपोर्ट में चीन की ओर से कोई बयान नहीं आया। उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था, अस्थिर राजनीति, सुरक्षा चुनौतियों और अन्य समस्याओं के कारण चीनी पक्ष की कम रुचि को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें: Cancer Treatment Egypt: मिस्र में 4000 साल पुरानी मानव खोपड़ी से हुआ बड़ा खुलासा, जानकर चौंक जाएंगे आप