Israel Hamas War: पहली बार गाजा के राफा शहर पहुंचे इजरायली टैंक, हमास ने बातचीत से किया इनकार

छवि स्रोत : एपी
इज़रायली सेना के टैंक

इजराइल-हमास युद्ध: इजराइल और हमास के बीच युद्ध जारी है। इस बीच यह पहली बार है जब इजरायली टैंक जमीनी कार्रवाई के बाद राफा सेंटर तक पहुंचे हैं। इस बीच, दुनियाभर के देशों ने राफा में इजरायल द्वारा की गई सैन्य कार्रवाई का विरोध किया है। रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, राफा शहर में रहने वाले लोगों ने बताया कि अल-अवदा मस्जिद के पास इजरायली टैंक देखे गए हैं, जो सेंट्रल राफा में एक ऐतिहासिक स्थल है। हालांकि, इस बारे में इजरायली सेना की ओर से कोई बयान जारी नहीं किया गया है, लेकिन उन्होंने कहा कि उनका ऑपरेशन जारी है।

गोलीबारी जारी

स्थानीय निवासियों का कहना है कि इजरायल की सैन्य कार्रवाई में शहर का एक बड़ा हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है। रविवार को हुए हमले में बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों समेत कम से कम 45 फिलिस्तीनी मारे गए। हमास ने कहा है कि इसके अलावा इजरायल की गोलीबारी में कम से कम 26 और लोग मारे गए हैं। पश्चिमी इलाकों की ओर बढ़ते हुए इजरायली टैंक लगातार बमबारी कर रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि मंगलवार को जुरूब इलाके में इजरायली सैनिकों और हमास के लड़ाकों के बीच गोलीबारी हुई थी।

नेतन्याहू ने इसे ‘भयानक भूल’ बताया

उल्लेखनीय है कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने राफा शहर में 45 फिलिस्तीनियों की मौत पर प्रतिक्रिया दी है। नेतन्याहू ने कहा है कि रविवार को दक्षिणी शहर गाजा पर हुए हमलों में विस्थापित फिलिस्तीनियों की हत्या एक ‘भयानक गलती’ थी। इस घटना को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय में इजरायल की निंदा की जा रही है। हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, इजरायली हमले में कम से कम 45 लोग मारे गए और सैकड़ों अन्य घायल हो गए।

हमास ने जवाब दिया

इस बीच, राफा पर इजरायली सैन्य कार्रवाई के बाद हमास ने कथित तौर पर मध्यस्थों से कहा है कि वह युद्ध विराम या कैदियों की अदला-बदली के सौदे पर बातचीत नहीं करेगा। हमास के एक वरिष्ठ अधिकारी ओसामा हमदान ने बेरूत में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम इजरायली बंधकों को रिहा नहीं करेंगे और अगर करेंगे भी तो अपनी शर्तों पर। हमास के खिलाफ युद्ध के कारण इजरायल को अंतरराष्ट्रीय आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। इजरायल के करीबी सहयोगियों, खासकर अमेरिका ने नागरिकों की मौत पर गहरी नाराजगी जताई है।

यह भी पढ़ें:

श्रीलंका ने ISIS आतंकियों के संदिग्ध हैंडलर की पहचान की, पुलिस ने कहा ‘चालाक शख्स अक्सर अपना हुलिया बदलता रहता है’

पापुआ न्यू गिनी में भूस्खलन के बाद हालात गंभीर, भारत ने मदद के लिए बढ़ाया हाथ, किया बड़ा ऐलान

नवीनतम विश्व समाचार