LIVE: रूस और यूक्रेन ने युद्ध में पकड़े गए सैनिकों की अदला-बदली की, UAE ने कहा- हमने किया सौदा

कीव. रूस और यूक्रेन के बीच दो साल से ज़्यादा समय से युद्ध चल रहा है और इसके खत्म होने के कोई आसार नहीं दिख रहे हैं। इस बीच, यूक्रेन और रूस ने शुक्रवार को युद्ध में पकड़े गए 75-75 सैनिकों की अदला-बदली की। पिछले तीन महीनों में दोनों देशों के बीच युद्धबंदियों (POW) की यह पहली अदला-बदली है। संयुक्त अरब अमीरात ने कहा कि उसने इस हालिया अदला-बदली में मदद की है।

अधिकारियों ने बताया कि युद्धबंदियों की अदला-बदली से कुछ समय पहले ही दोनों पक्षों ने एक ही स्थान पर सैनिकों के शव भी एक-दूसरे को सौंपे थे। ‘युद्धबंदियों के उपचार के लिए यूक्रेन समन्वय मुख्यालय’ के अनुसार, युद्ध शुरू होने के बाद से अब तक कुल 3,210 यूक्रेनी सैन्यकर्मी और नागरिक देश लौट चुके हैं।

रूस ने खार्किव पर मिसाइल हमला किया, 5 की मौत
इससे पहले, उत्तर-पूर्वी यूक्रेनी शहर खार्किव में रूसी मिसाइल हमलों में कम से कम पांच लोग मारे गए और 24 से अधिक घायल हो गए।

खार्किव के गवर्नर ओलेह सिन्यूबोव ने बताया कि रूसी सेना ने शहर पर पांच मिसाइलें दागीं। इस हमले में कम से कम 20 रिहायशी इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं। इन हमलों में कम से कम 5 लोगों की जान चली गई। इस हमले में मरने वाले ज़्यादातर लोग पांच मंजिला अपार्टमेंट में रह रहे थे। हमलों में एक दमकल गाड़ी और एक एंबुलेंस भी क्षतिग्रस्त हो गई।

यूक्रेनी अधिकारियों ने कहा कि कीव पर क्रूज मिसाइल से हमला किया गया। हमले में एक कार मरम्मत की दुकान और छह वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। यूक्रेन दो साल से भी ज़्यादा समय से रूस के बड़े हमले का सामना कर रहा है। यूक्रेनी बिजली आपूर्ति पर रूसी हमलों के कारण अक्सर बिजली कट जाती है।

वोवचेंस्क शहर खंडहर में तब्दील
इस बीच, अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस ने एक ड्रोन वीडियो जारी किया है। इसमें यूक्रेन के उत्तर-पूर्व में वोवचांस्क शहर में रिहायशी इमारतें मलबे के ढेर में तब्दील देखी जा सकती हैं और पास में खाली बम के गोले पड़े हैं।

रूस की सीमा से लगे कई यूक्रेनी शहरों की तरह यह शहर भी खंडहर में तब्दील हो चुका है। यहां रूसी और यूक्रेनी सेनाओं के बीच भीषण युद्ध चल रहा है। फिलहाल इस शहर के सिर्फ 70 फीसदी हिस्से पर ही यूक्रेन का नियंत्रण है, बाकी 30 फीसदी इलाका रूसी सेना के कब्जे में है। इस शहर की आबादी करीब 17000 थी, लेकिन अब यह शहर खाली हो चुका है और यहां सिर्फ सैनिक ही नजर आते हैं।

बिडेन ने यूक्रेन को अमेरिकी हथियारों से हमला करने की अनुमति दी
इस बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन को रूसी ठिकानों पर निशाना साधने के लिए उसे दिए गए हथियारों का इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है। हालांकि, इन हथियारों का इस्तेमाल रूसी सीमा के अंदर नहीं किया जाना चाहिए। अब तक यूक्रेन पर रूस के खिलाफ हमलों में पश्चिमी देशों द्वारा दिए गए हथियारों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध था।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की लंबे समय से इन हथियारों के इस्तेमाल की अनुमति मांग रहे थे। ऐसे में माना जा रहा है कि बाइडन का यह कदम रूस-यूक्रेन युद्ध की दिशा बदल सकता है।

टैग: रूस, रूस यूक्रेन युद्ध, यूक्रेन युद्ध